हाईकोर्ट के प्रतिबंध के बाद भी सड़क पर सरपट दौड़ते जुगाड़

karauli road
Janmanchnews.com
Share this news...

यातायात पुलिस की उदासीनता से हो सकता है बड़ा हादसा…

Shubham Tiwadi
शुभम तिवाड़ी
करौली। हाईकोर्ट के प्रतिबंध के बाद भी जुगाड़ सड़क पर सरपट दौड़ते नज़र आ रहे हैं। परिवहन विभाग व पुलिस की अनदेखी के कारण सडको पर फर्राटे से दौड़ रहे है। चाहे ओवरलोड सवारी ढोने का काम हो या माल ले जाने का अधिकतर कार्यो में जुगाड़ ही काम मे लिए जा रहे है।

शहर के मुख्य मार्गों पर यातायात पुलिस की अनदेखी के कारण जुगाड़ चल रहे है। यातायात पुलिस इन्हें रोकने में फेल नज़र आ रही है। चलते जुगाड़ों से हर समय हादसा होने का अंदेशा बना रहता है। लेकिन पुलिस प्रशासन मूकदर्शक बन देख रहा है।

जुगाड़ों पर उचित कार्यवाही नही की जा रही। बल्कि जुगाड़ों को देखने पर यातायात पुलिस के कर्मचारी मुँह मोड़ लेते हैं जबकि हाईकोर्ट के आदेशों के अनुसार जुगाड़ों पर प्रतिबंध लगा दिया है लेकिन जुगाड़ों का परिवहन विभाग में न पंजीयन होता न इनका कोई बीमा होता है। फिर भी यातायात पुलिस इनके संचालन पर रोक नही लगा पा रही  है।

जुगाड़ों की मात्रा में बढ़ोतरी से लोडिंग गाड़ियों के धंधे में काफी कमी आ रही है। इसी को लेकर लोडिंग वाहन चालकों का कहना है कि सरकार को हम रोड़ टैक्स व टोल टैक्स देते हैं और जुगाड़ों का नही तो टोल टैक्स व रोड़ जमा नही होने पर भी शहर के अंदर सरेआम रोड़ पर घूमते हैं व पिकअपों का धंधा चौपट कर दिया है पिकअप चालकों ने कुछ दिन पूर्व करौली हिंडौन मार्ग जाम किया।

वाहन चालकों ने बताया कि जुगाड़ों के शहर में चलने से हमें दो वक्त की रोटियों का जुगाड़ नही हो पा रहा है। लेकिन यातायात पुलिस की उदासीनता के कारण जुगाड़ों पर कोई ठोस कदम नही लगा पा रहे है। ऐसे में समय रहते अगर यातायात पुलिस ने कोई उचित कदम नही उठाया तो जुगाड़ बड़े हादसे को अंजाम दे सकते हैं। 

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।