Niyaz Khan

सत्ता परिवर्तन होते ही MP के इस प्रशासनिक अधिकारी ने बयां किया अपना दर्द, कहा- मेरे साथ……

101

भोपाल। MP में सत्ता परिवर्तन हो चुकी है। बीते दिनों कमलनाथ ने CM पद की शपथ ली। CM पद को संभालते ही कामनाथ ने कई बड़े फैसले लेना शुरू कर दिया है।

मगर इन सब के बीच एक बड़ी खबर सामने आई है। दरअसल, अंडरवर्ल्ड डॉन अबू सलेम पर लिखे गए उपन्यास को लेकर चर्चाओं में रहे राज्य प्रशासनिक सेवा के अधिकारी नियाज अहमद एक बार फिर सुर्खियों में आ गये है।

आपको बताते चले नियाज अहमद लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग में उप सचिव के पद पर कार्यरत हैं। उन्होंने ट्वीट के जरिये एक बड़ी बात कही है। अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा कि  ‘खान’ शब्द उनके साथ भूत की तरह चिपका हुआ है। नियाज अहमद का कहना है कि देश में मुस्लिम अधिकारियों के साथ दोयम दर्जे का व्यवहार किया जाता है।

नियाज अहमद ने अपना दर्द बयां करते हुए बताया कि उनके 17 साल की नौकरी में 19 तबादले 10 विभिन्न जिलों में किया गया। गुना जिले में पदस्थ रहते हुए देश का सबसे बड़ा ओडीएफ घोटाला पकड़ने के बावजूद नियाज का कहना है कि उन्हें लूप लाइन पोस्टिंग दे दी गई, जबकि जिन्होंने ने घोटाला किया वे आज भी प्राइम पोस्टिंग पर बैठे हुए हैं।