Arun yadav congress leader

नन्दू भैया को दिमाग की बीमारी है, उन्हें मनोवैज्ञानिक से मिलना चाहिए: कांग्रेस अध्यक्ष

3
Sarvesh Tyagi

सर्वेश त्यागी

अशोकनगर। अशोकनगर के मुंगावली में हो रहे चुनावों में अब एक दूसरे पर छींटाकशी का दौर शुरू हो गया है। एक दूसरे पर अब भद्दे कमेंट करने में भी नहीं चूक रहे हैं। दो दिन पहले नंदकुमार सिंह चौहान द्वारा दिए गए एक बयान के जवाब में पीसीसी चीफ अरुण यादव ने भी भाजपा को अपने अध्यक्ष का इलाज कराने की सलाह दे डाली।

भाजपा प्रदेशाध्यक्ष द्वारा दिए गए बयान पर उन्होंने कहा कि नंदकुमार सिंह चौहान का मानसिक संतुलन ठीक नहीं है और उन्होंने पहली बार इस तरह का बयान नहीं दिया है। इससे पहले भी वह कई बार अनर्गल टिप्पणी कर चुके हैं। मेरा मानना है कि उन्हें डॉक्टर की जरूरत है और पार्टी को उनका एम्स में इलाज कराना चाहिए।

आलाकमान तय करेगा सीएम दावेदार कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष यादव ने प्रेस वार्ता में सत्यव्रत चतुर्वेदी द्वारा एक दिन पहले दिए गए बयान पर सहमति नहीं जताई। उन्होंने कहा कि प्रदेश में सीएम कैंडिडेट घोषित करने का निर्णय पार्टी हाईकमान को लेना है इसमें मैं कुछ नहीं कर सकता यह पार्टी की परंपरा में नहीं है।

प्रेस वार्ता में उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए प्रदेश में बढ़ती बेरोजगारी को लेकर पीएम से सवाल पूछने की बात कही। उन्होंने कहा कि प्रदेश की बढ़ती बेरोजगारी पर प्रधानमंत्री से सवाल करना चाहिए 2014 में जब वे सत्ता में आए थे तो उन्होंने कहा था कि हर साल दो करोड़ नौजवानों को रोजगार दिया जाएगा वह रोजगार कहां है।

मतदाता सूची में गड़बड़ मुंगावली विधानसभा उप चुनाव में कांग्रेस ने मतदाता सूची में घोटाले का आरोप लगाते हुए सत्तारूढ़ दल को घेरना शुरू कर दिया है। उप चुनाव में फर्जी मतदान की आशंका जताते हुए कांग्रेस ने मतदाता सूची में गड़बड़ी की शिकायत मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी से कर दी है।

पार्टी का आरोप है कि मतदाता सूची में एक ही व्यक्ति के दो से तीन जगह नाम हैं और फोटो गलत लगे हैं। इसका सीधा अर्थ है कि सत्तारूढ़ दल ने उप चुनाव में फर्जी मतदान की योजना बनाई है। कांग्रेस के प्रवक्ता जेपी धनोपिया, रवि सक्सेना, पंकज चतुर्वेदी, दुर्गेश शर्मा, सैयद साजिद अली, शानू कुरैशी, असद उद्दीन खान के प्रतिनिधि मंडल ने इस संबंध में मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी को पत्र लिखा है।