baba ramdev

आने वाले छह से सात महीने में 20 हजार नए लोगों को नौकरी दी जाएगी- बाबा रामदेव

157
Rajkumar jayaswal

राज कुमार जायसवाल

भोपाल। योग गुरु बाबा रामदेव ने गुरुवार को भोपाल आये। उन्होंने कहा कि बेरोजगारी, भूख और अभाव भारत माता के माथे पर कलंक हैं। इसे मिटाने के लिए जितना सरकार को करना चाहिए, उतना नहीं कर रही है। मध्य प्रदेश और केंद्र सरकार भूख और बेरोजगारी मिटाने में नाकाम रही हैं। बाबा रामदेव सुबह भोपाल पहुंचे। वे मंडीदीप में आयोजित एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने यहां पहुंचे।

मीडिया से चर्चा के दौरान के दौरान बाबा ने बेरोजगारी और भूख को खुलकर बात की। उन्होंने कहा कि पूरे देश मे बेरोजगारी और गरीबी एक बड़ा सवाल बन गई है। केंद्र और राज्य सरकारें मिलकर भी उस दिशा में जितना करना चाहिए, नही कर पा रहीं। लेकिन बेरोजगारों को नौकरी देने में पतजंलि का बहुत बड़ा योगदान है।

एक महीने में सेल्स में 11 हजार नौकरी दी-

बाबा रामदेव ने कहा कि हमने एक महीने में पतजंलि के सेल्स विभाग में 11 हजार लोगों को नौकरी दी है। आने वाले छह से सात महीने में 20 हजार नए लोगों को नौकरी दी जाएगी। मध्य प्रदेश में 1500 लोगों को नौकरी दिए हैं, इसलिए यहां आया हूं। बेरोजगारी, भूख अभाव भारत माता के माथे पर कलंक हैं, इनको मिटाना ही मेरा संकल्प है।

जन आर्शीवाद यात्रा पर कुछ नहीं बोले-

बाबा रामदेव ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह की जन-आशीर्वाद यात्रा पर भी कोई बयान नहीं दिया। यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा प्रमुख अखिलेश यादव के भोपाल आगमन के बारे में बाबा ने कहा हम तो योगी हैं, हमे इससे क्या। हालांकि उन्होंने स्वामी अग्निवेश पर हमले की घटना पर कहा कि इस तरह की पिटाई शोभनीय नहीं है। मध्य प्रदेश में बाबाओं को राज्य मंत्री का दर्जा पर रामदेव ने कहा कि स्वामी रामदेव ऐसे सन्यासी है जिन्हें न मंत्री न ही मुख्य्मंत्री बनना है।

इस कार्यक्रम में कर रहे हैं शिरकत-

वही गुरुवार को पतंजलि योगपीठ के मुख्य योगाचार्य रमेश शर्मा के नेतृत्व में आमेर मैजेस्टिक, होशंगाबाद रोड पर योग प्रशिक्षकों का “युवा स्वावलंबन सम्मेलन” कार्यक्रम आयोजित किया गया है। जिसमें शामिल होने बाबा रामदेव पहुंचे हैं। विशेष रूप से भारत स्वाभिमान ट्रस्ट के मुख्य केंद्रीय प्रभारी डॉ. जयदीप आर्य सहित लगभग 1800 की संख्या में व्यक्ति उपस्थित रहे।