लोकतंत्र में मीडिया की भूमिका व चुनौतियों पर कॉन्क्लेव का किया गया आयोजन

media Conclave
Janmanchnews.com
Share this news...
Moinul Haque
मोईनुल हक़ नदवी

बेगूसराय। लोकतंत्र में मीडिया की भूमिका और चुनौतियों के विषय पर रविवार को शहर के दिनकर कला भवन में पत्रकार संघ द्वारा मीडिया कॉन्क्लेव का आयोजन किया गया। जिसमें कई पत्रकार, साहित्यकार और बुद्धिजीवियों ने उक्त विषय पर अपनी अपनी बातों को रखा।

कार्यक्रम में उपस्थित साहित्यकार व स्तंभकार डॉ. बुद्धिनाथ मिश्र ने कहा कि आज समाचार पत्र जिला स्तरीय हो गए हैं। जिससे उसकी धार कम हो गयी है। डीएम नौशाद युसूफ ने कहा कि हम पत्रकारों को सकारात्मक न्यूज़ पर ज़ोर देना चाहिए।

वहीं डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि समाचार प्रेषण में मानवता जरूरी है। आज मीडिया के सामने उसके अपने साख को बचाने की भी चुनौती है। पत्रकारिता पर संकट का मतलब लोकतंत्र पर संकट है। पत्रकारों को कोई जाति धर्म से मतलब नहीं होना चाहिए। यदि आपके समाचारों में इन बातों का ध्यान आया तो वे अपने दायित्व का निर्वहन नहीं कर पाएंगे।

वरिष्ठ पत्रकार व वर्धा हिंदी विश्वविद्यालय के व्याख्यातआ कृपानाथ चौबे ने कहा कि आज मीडिया खुद मीडिया के लिए ही चुनौती पेश कर रही है। श्रमजीवी पत्रकार यूनियन के अध्यक्ष कमल सहाय ने कहा ने कहा कि पत्रकारों को संगठित होकर रहना होगा। स्तंभकार प्रकाश केरे ने समाचार पत्रों का इतिहास प्रस्तुत कर पत्रकारों का ज्ञानवर्धक किया।

वहीं बीबीसी की पत्रकार सीटू तिवारी ने पत्रकारिता में महिलाओं के स्थान व चुनौतियों का विस्तार से चर्चा की। अध्यक्षता गुप्तेश्वर पाण्डे ने की।

मौके पर मेयर उपेंद्र सिंह, संघ के अध्यक्ष शालिग्राम सिंह, पवन बंधु सिन्हा, आरिफ हुसैन, इनाम, रघुवीर झा और लगभग सभी समाचार पत्रों व मीडिया कर्मी आदि कॉन्क्लेव में मौजूद थें।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।