केंद्र व राज्य सरकार के गलत नीतियों की वजह से किसान आत्महत्या करने को मजबूर

begusarai congress
janmanchnews.com
Share this news...
Moinul Haque
मोईनुल हक़ नदवी

बेगूसराय। जिला अध्यक्ष अर्जुन सिंह की अध्यक्षता में कार्यकर्ताओं की बैठक हुई। बैठक में वक्ताओं ने केंद्र की मोदी सरकार और बिहार की नीतीश सरकार पर किसान विरोधी होने का आरोप लगाया गया। वक्ताओं ने कहा कि बेगूसराय कांग्रेस की मजबूत इकाई है। जब जब कांग्रेस की परीक्षा हुई है तब तब यहां से कांग्रेस के प्रतियाशी की विजयी हुए हैं।

बेगूसराय में कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव सह बिहार कांग्रेस के प्रभारी सचिव वीरेंद्र सिंह राठौड़ ने कार्यकर्ताओं के साथ बैठक की। बैठक के बाद कांग्रेस भवन आयोजित प्रेस वार्ता में प्रभारी सचिव ने कहा कि बिहार में उनका गठबंधन राजद और हम पार्टी के साथ वर्तमान में भी और भविष्य में भी जारी रहेगा। लोकसभा चुनाव में सीटों के बंटवारे को लेकर बातचीत चल रही है और कांग्रेस सम्मानजनक सीट पर चुनाव लड़ेगी। साथ ही उन्होंने कहा कि उनका गठबंधन बिहार में मजबूती के साथ राजद और हम के साथ है और उसी गठबंधन के तहत लोकसभा चुनाव लड़ा जायेगा।

नीतीश कुमार भाजपा के साथ हैं और कांग्रेस राजद और हम के साथ काफी मजबूत स्तिथी में है। वहीं बैठक में मौजूद प्रभारी सचिव ने किसानों की समस्याओं को लेकर बातचीत की। उन्होंने कहा कि बिहार में भाजपा और नीतीश कुमार की गलत नीतियों की वजह से किसान आत्महत्या करने को मजबूर है। साथ ही उन्होंने नीतीश कुमार से केंद्र सरकार द्वारा घोषित समर्थन मूल्य पर अपना स्टैंड क्लियर करने की मांग की। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकार ने पंजाब व कर्नाटक में किसानों के दो लाख तक के कर्ज माफ कर चुकी है।

अगर बिहार में भी हमारी सरकार आती है तो निश्चित रूप सर किसानों के हित मे काम करेंगे और किसानों के हर एक उत्पाद को सरकार पूर्व की तरह निर्धारित मूल्य पैक्स के माध्यम से खरीद करेंगे इसके इलावा हम हम दावा करते हैं कि कांग्रेस की सरकार बनने के बाद किसानों के एक दाने को सरकार उचित मूल्य पर खरीदेगी और पंजाब, हरियाणा के तर्ज पर 48 घण्टे के अंदर किसानों के बैंक खाते में समर्थन मूल्य का रुपये पहुंचेगा।

इस बैठक में प्रदेश सचिव धनंजय मधुकर, राम स्वरूप पासवान, शांति स्वामी, अभय कुमार सर्जन, अनिल कुमार सिंह, अजय कुमार सिंह, रूबी शर्मा, अमित यादव,अंजनी कुमार, सागर कुमार, रत्नेश कुमार टुल्लू, अनुपम कुमार अन्नू, अजित कुमार,और अल्पसंख्यक इकाई के महामंत्री मो रूहुल्लाह और एनएसयूआई के अभिषेक कुमार, पवन कुमार समेत अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।