उसके सपनों की राजकुमारी निकली फरेबी…लुटा-पीटा भटक रहा अब न्याय की आस में

Janmanchnews.com
Share this news...
Pankaj Pandey
पंकज पाण्डेय

मुजफ्फरपुर। आभासी दुनिया के रंगीनियों से “परी” लाकर सपनों का संसार बसाने की उसकी चाहत ने उसे कहीं का न छोड़ा। उसकी “सपनों की राजकुमारी” एक “फरेबी राजकुमारी” साबित हुई। सब कुछ लुटाकर अब वह “सपनों की राजकुमारी” की फरेब की शिकायत लिए दर-दर भटक रहा है। न्याय के लिए भागलपुर महिला थाने में प्राथमिकी और मुजफ्फरपुर के सीजेएम कोर्ट में परिवाद दायर तक कर दिया। फिर क्या था राजकुमारी ने भी दुष्कर्म का आरोप लगाते हुए भागलपुर में उस पर केस ठोक दिया है।

फेसबुक पर नगर थाने के पंकज मार्केट, सरैयागंज निवासी सुधांशु रंजन की एक युवती से दोस्ती हुई। दोस्ती के साथ शुरू हुई चैटिंग हंसी-मजाक और थोड़े ही दिनों के प्रेमालाप की फुहार से उसके दिल में प्यार के अंकुर फुट पड़े। उसने युवती के समक्ष प्रेम-निवेदन के साथ ही शादी का प्रस्ताव रखा। उसने भी स्वीकार कर लिया और परिजन से बात कर उनके समक्ष शादी का प्रस्ताव रखने की सलाह दी।

इस साल एक अप्रैल को सुधांशु भागलपुर गया। भागलपुर में युवती से मिला। युवती की सलाह पर उसके पिता से भी बात की। युवती के पिता ने सुधांशु को सहर्ष सहमति दी। इसके बाद आठ जुलाई को भागलपुर के नाथनगर के एक होटल में युवती व उसके भाई से मिला। होटल में मुलाकात के दौरान युवती के भाई ने उसका मोबाइल चुरा लिया। बाद में उसे पता चला कि युवती का किसी अन्य से रिलेशन है।

बावजूद वह दोबारा भागलपुर जाकर युवती के माता-पिता व अन्य रिश्तेदारों से मिला। सभी ने शादी की सहमति जताते हुए इसके लिए नवंबर 2017 तय किया। उनके झांसे में आकर सुधांशु ने युवती के पिता, भाई व मामा को 50 हजार रुपये दे दिए। युवती ने भी शादी के नाम पर करीब तीन लाख की शॉपिंग करा ली। अन्य अवसरों पर किए गए खर्च को मिलाकर कुल पांच लाख रुपये की ठगी कर ली।

अक्टूबर में जब तिथि तय करने के लिए युवती व उसके पिता से बात की तो उन लोगों ने शादी से इन्कार कर दिया।

भागलपुर में दर्ज प्राथमिकी में सुधांशु ने आरोप लगाया गया है कि युवती के पिता ने उससे कहा कि यह उनका पेशा है। वे न तो रुपये लौटाएंगे और न ही बेटी की उससे शादी करेंगे। उन लोगों ने उसे जान से मारने की भी धमकी दी है।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।