Bhagalpur smart city

भागलपुर को स्मार्ट सिटी बनाने की तैयारी शुरू

154

कीर्ति माला,

भागलपुर। भागलपुर को स्मार्ट सिटी बनाने की प्रक्रिया बहुत जोर-शोर से चल रही है। शनिवार को स्मार्ट सिटी बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की बैठक हुई जिसमें स्मार्ट सिटी बनाने के लिए किन-किन चीजों की आवश्यकता है इस विषय पर बात हुई और नए सामान खरीदने की भी बात की गई।

भागलपुर को एक नई रूप-रेखा देने का प्रारूप तैयार किया गया। जैसे घंटाघर और लाजपत पार्क के पास बड़े शहरों के एयरपोर्ट और शॉपिंग मॉल की तरह मल्टीलेवल पार्किंग बनाई जाएगी। घंटाघर के पास टीटीसी की चहारदीवारी से सटाकर और लाजपत पार्क वाली सड़क के किनारे यह पार्किंग बनाने की योजना है। इन जगहों को इसलिए चुना गया है, क्योंकि यहां से मुख्य बाजार काफी नजदीक है और पैदल आ-जा सकते हैं। दोनों पार्किंग बनने के बाद मुख्य बाजार में चारपहिया वाहनों के प्रवेश पर पूरी तरह रोक लगा दी जाएगी।

इस पार्किंग में ऐसी व्यवस्था होगी कि आप अपनी कार लेकर जाएंगे और बटन दबाते ही चौथे मंजिल पर कार खड़ी हो जाएगी। वापसी में बटन दबाते ही आपकी गाड़ी सुरक्षित ग्राउंड फ्लोर पर आ जाएगी। इससे न सिर्फ गाड़ी चोरी के डर से निजात मिलेगी, बल्कि शहर को जाम मुक्त बनाने में भी काफी मदद मिलेगी।

मल्टी लेवल पार्किंग के इस स्वरूप को पजल पार्किंग भी कहा जाता है। इसमें आयरन स्ट्रक्चर होता है। इसे बनाने के लिए टेक्निकल कंपनी को भागलपुर बुलाया जाएगा। दिल्ली और कोलकाता में कई जगह इस तरह की पार्किंग बनी हुई है। मल्टी लेवल पार्किंग में कार खड़ी करने के लिए शुल्क तय होगा, क्योंकि इस पार्किंग के मेंटेनेंस पर भी राशि खर्च होगी। इसलिए स्मार्ट सिटी कंपनी शुल्क तय करेगी।

आने वाले दिनों में कोतवाली चौक, डिक्शन रोड, तिलकामांझी, कचहरी चौक के आसपास भी मल्टीलेवल पार्किंग की योजना बनेगी। पीडीएमसी के आने के बाद ट्रैफिक लोड और जगह परखने के बाद यहां के लिए पहल की जाएगी। इन योजनाओं के साथ भागलपुर अब कुछ ही दिनों में नए रूप में दिखेगा। और स्मार्ट सिटी बनने का सपना भी पूरा होगा।