प्रेम-प्रसंग में देवर और भाभी ने एक साथ कुएं में कूदकर दे दी जान

Share this news...
Pankaj Pandey
पंकज पाण्डेय

जमुई। रिश्ते में चचेरे देवर भाभी को एक दूसरे से अलग होना रास नहीं आया। जब  दोनों को साथ रहने की कोई उम्मीद दिखाई नहीं पड़ी तो  एक साथ दोनों ने कुएं में कूदकर आत्महत्या कर ली।

मामला जमुई जिले के खैरा प्रखंड के शोखो थाना क्षेत्र का है। हालांकि ग्रामीण दोनों के बीच इस तरह के कोई संबंध होने की बात से इनकार कर रहे हैं।

इस बाबत परिजनों ने बताया कि दोनों ही देवर-भाभी का एक दूसरे के साथ काफी सामान्य व्यवहार था। बीते शुक्रवार शाम भी दोनों आम दिनों की तरह घर में बैठे हुए थे, तभी अचानक दोनों गायब हो गये। इसके बाद परिजनों ने आसपास के लोगों के सहयोग से उन्हें काफी खोजा, परंतु रात ढलने के बाद भी उनका कुछ पता नहीं चल सका।

शनिवार सुबह कुछ लोगों ने कुएं की मुंडेर पर चंदन की चप्पल पड़ी देखी। इसके बाद जब लोगों ने कुएं के आसपास खोजबीन शुरू की तब कुएं में लाश होने का पता चला।

इधर, ग्रामीणों के अनुसार उक्त महिला की शादी दो वर्ष पूर्व मृत चंदन के चचेरे भाई उमेश दास से हुई थी।दोनों देवर-भाभी का एक दूसरे के घर आना-जाना था। उमेश अपने चाचा के साथ कोलकाता में रहकर काम करता है तथा उसकी पत्नी बिंदु गांव में अकेले रहती थी। चंदन अपनी मां के साथ गांव में रहा करता था। रिश्ते में देवर भाभी होने के कारण दोनों आपस मे हंसी-मजाक भी करते रहते थे। दोनों के बीच प्रेम था औऱ दोनों अपनी जान दे देंगे किसी ने सोचा नहीं था।

उधर, घटना की सूचना मिलने पर थानाध्यक्ष दलजीत झा दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे तथा स्थानीय लोगों के सहयोग से शव को कुएं से बाहर निकाला। इस बाबत थानाध्यक्ष श्री झा ने बताया कि प्रथम दृष्टया यह प्रतीत होता है कि दोनों की मौत डूबने के कारण हुई है। शव पर किसी प्रकार के चोट का कोई निशान नहीं है। हालांकि पुलिस मामले की छानबीन कर रही है।

Share this news...