प्रशासन की लापरवाही के कारण आज तक मार्केट काम्प्लेक्स का निमार्ण पूरा नहीं हुआ

market complex
Janmanchnews.com
Share this news...

अनिल आर्यन,                                                

कैमूर। रामगढ़ बाजार को खूबसूरती प्रदान करने के लिए बनाया गया मार्केट कॉम्प्लेक्स के दुकानदार विषम परिस्थिति मे हैं। दुकान के नीचे छत से पानी टपकता रहता है। ना छत की मरम्मत की जा रही है ना प्रस्तावित दूसरी मंजिल बन रही है। प्रशासन द्वारा दो मंजिला भवन बनाने के कार्य शुरू होने में आई अड़चन दूर नहीं हो सकी है।

जिसके चलते इस योजना पर ग्रहण लगता दिख रहा है। कितने दुकानदार अपने स्तर से छत की मरम्मत कराएं, लेकिन छत के ऊपर दो मंजिला मकान का ¨प्लथ पानी बाहर करने मे बाधक बना हुआ है। बरसात के मौसम मे दुकनदारों को काफी परेशानी झेलनी पड़ रही है।

ऊपरी हिस्से मे कार्य कराने के शासन प्रशासन के वादे फेल हो गए है। बीच प्रखंड प्रशासन द्वारा कुछ नए दुकान आवंटित करने के लिए नीलामी प्रक्रिया अपनाई गई मगर वह भी रास नही आ सकी। लिहाजा सारा टेंडर प्रक्रिया पर पानी फिर गया। अब तो स्थिति यह हो गई है कि ब्लाक के उतर दिशा मे बने नए कमरों मे बारिश शुरू होते ही पानी टपकने लगता है जबकि इसके रोक थाम के लिए प्रशासन द्वारा दो मंजिला भवन बनाने की कवायद शुरू हुई, लेकिन यह योजना आज तक साकार नही हो सकी।

लाखों रुपये खर्च करने के बाद भी इसकी उपयोगिता समझ से परे है। बता दे कि तत्कालीन ब्लॉक प्रमुख शैल सिंह द्वारा 2010 में दो मंजिला मार्केट कॉम्प्लेक्स बनाने के लिए योजना बनवाई। ब्लॉक से स्वीकृति दिलाकर कार्य शुरू कराया गया। प्रथम फेज मे 90 कमरों के लिए प्राक्कलन बना।
एक करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले इस दो मंजिला भवन के निर्माण के लिए ¨प्लथ का कार्य हुआ। प्रारंभिक चरण मे छह लाख रूपये खर्च किया गया। सभी नब्बे कमरों का फाउंडेशन तैयार हुआ। राशि के अभाव मे कार्य कुछ दिन रुका रहा। दो साल बाद जब कार्य शुरू करने की योजना बनाई गई तो बाजार के लोगो ने कार्य को रोक दिया जो आज तक रुका हुआ है। इस संबंध मे पूछे जाने पर बीडीओ ने बताया कि तकनीकी अड़चन के चलते कार्य फिलहाल बंद है ।

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर ज्वॉइन करेंट्विटर पर फॉलो करें।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।