Janmanchnews

खगड़िया जंक्शन पर अब उत्तरी साइड भी होगा टिकट काउंटर

29

शाहनवाज,

खगड़िया। रेलवे स्टेशन खगड़िया के उत्तरी हिस्से में बसे लाखों लोगों को रेल यात्रा टिकट के लिए जान हथेली पर रखकर रेलवे लाइन पार करने की समस्या से जल्दी ही निजात मिल जाएगी। जंक्शन के उत्तरी भाग में अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस सेकेंड इंट्री भवन का निर्माण कार्य तेजी से जारी है।

विकसित हो जाएगा खगड़िया जंक्शन* रेलवे सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, टिकट काउंटर सह सेकेंड इंट्री भवन के बाहरी सर्कुले¨टग एरिया में यात्रियों की सुविधा के लिए वाहन पड़ाव का निर्माण भी कराया जा रहा है। टिकट काउंटर सह सेकेंड इंट्री भवन तक पहुंचने के लिए एप्रोच पथ का निर्माण कराया जाएगा। एप्रोच पथ के पश्चिम एवं उत्तरी भाग से जोड़ने के लिए उसे मथुरापुर चौक से मिलाया जाएगा। पूर्व एवं दक्षिणी भाग से जाने के लिए एप्रोच पथ को सन्हौली दुर्गा स्थान से सटे महावीर चौक से जोड़ा जाएगा।


गौरतलब है कि जिले की अधिकांश आबादी खगड़िया रेलवे जंक्शन के उत्तरी हिस्से में बसी है। जबकि, टिकट काउंटर रेलवे लाइन के दक्षिण तरफ है। इस तरह जिला के साथ ही बाहर से आने वाले यात्रियों को भी ट्रेन के सफर हेतु टिकट कटाने में परेशानी होती है।रेलवे ढाला पार करने में काफी समय लगता है। रेलवे लाइन के उत्तरी हिस्स के लोगों को टिकट काउंटर तक पहुंचने के लिए दूसरे विकल्प के तौर पर जान जोखिम में डालकर पटरी पार करना होता है।

जिले के लोग खगड़िया जंक्शन के उत्तरी भाग में टिकट काउंटर खोलने की मांग दशकों से कर रहे थे। स्थानीय लोगों ने इस मांग को लेकर कई बार आंदोलन भी किया। करीब डेढ़ दशक पूर्व अपने संसदीय कार्यकाल के दौरान डॉ. रेणु कुशवाहा ने लाइन के उत्तरी साइड में टिकट काउंटर का निर्माण कराया था। सुचारु व्यवस्था नहीं होने के कारण कुछ ही समय बाद काउंटर को स्थाई रूप से बंद कर दिया गया।


यात्रियों की परेशानी को देखते हुए यह महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया है। वरीय मंडल रेल अभियंता अशोक झा का स्थानांतरण हो गया है और उनकी जगह पर अब तक कोई आए नहीं हैं, इसलिए थोड़ी परेशानी है। बरौनी से कटिहार तक निर्माण कार्य वही देख रहे थे। हालांकि, हर हाल में इसी वर्ष निर्माण कार्य को पूरा कर लिया जाएगा।