भ्रष्टचार की हद पार…10 हजार रुपये रिश्वत लेते इंस्पेक्टर रंगेहाथ गिरफ्तार

corruption
Janmanchnews.com
Share this news...

मुजफ्फरपुर: मीनापुर के सर्किल इंस्पेक्टर डॉ रमेश दत्त पांडेय को निगरानी टीम ने 10 हजार रुपये रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार किया है. रिश्वत लेने के बाद इंस्पेक्टर ने चौकीदार अजय पासवान को पैसे रखने के लिए दिया था. निगरानी ने रकम बरामद कर उसे भी गिरफ्तार कर लिया.

शुक्रवार को विशेष निगरानी कोर्ट में पेशी के बाद उन्हें जेल भेजा जायेगा. जानकारी के अनुसार, मीनापुर के पानापुर ओपी में छितरपट्टी गांव में मनोज कुमार सहनी के पिता के साथ मारपीट हुई थी. इंस्पेक्टर पर्यवेक्षण में केस सत्य करने के लिए मनोज से 13 हजार रुपये रिश्वत की मांग कर रहे थे. 10 हजार में मामला तय हुआ.

मनोज ने इस बात की शिकायत निगरानी में की. चार दिनों से निगरानी की टीम रिश्वत मांगने के सत्यापन में जुटी थी. मामला सत्य पाते ही डीएसपी महाराजा कनिष्क के नेतृत्व में एक टीम बनायी गयी़ इंस्पेक्टर ने मनोज को सर्किल कार्यालय में बुलाया था. दो-दो हजार के चार नोट व पांच सौ के चार नोट जैसे ही मनोज ने इंस्पेक्टर को दिये, निगरानी टीम ने उन्हें घेर लिया.

इंस्पेक्टर  ने तब तक 10 हजार रुपये चौकीदार अजय पासवान को दे दिये थे. उसकी जेब से रुपये बरामद कर दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया. इंस्पेक्टर रमेश दत्त पांडेय बक्सर जिले के रहनेवाले हैं. लंबे समय से मुजफ्फरपुर जिले में तैनात हैं. 94 बैच के वह दारोगा हैं. हाल में ही इंस्पेक्टर में पदोन्नति हुई है.

डिप्टी सीएम के कार्यक्रम में लगी थी ड्यूटी…

इंस्पेक्टर की बुधवार को बोचहां में हुए डिप्टी सीएम के कार्यक्रम में भी ड्यूटी लगी थी. वह मनोज को लगातार पैसे के लिए परेशान कर रहे थे. रुपये तय होने पर बार-बार जगह बदल कर बुला रहे थे. गुरुवार को भी हाथ की अंगुली से इशारा कर अपने कार्यालय बुलाया था. चार दिनों से निगरानी टीम उनकी हर गतिविधि को वाच कर रही थी.

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।