छात्रा को शोहदों ने निवस्त्र कर पीटा जब उसने की छेड़खानी का विरोध

molest
Janmanchnews.com
Share this news...

 

Pankaj Pandey
पंकज पाण्डेय

दरभंगा। छेड़खानी का विरोध करने पर शोहदों ने साजिश रची। उन्‍होंने लड़की के कॉलेज जाने को गांव की इज्‍जत से खिलवाड़ बताकर ग्रामीणों को भड़काया। फिर, दबंगों की पंचायत बैठी और शर्मसार कर देने वाला फैसला हुआ। इसके अनुसार दबंगों ने लड़की को सरेआरम निर्वस्‍त्र कर पिटाई कर दी।

मिली जानकारी के अनुसार बीए पार्ट-टू की एक छात्रा को उसके ही समाज के लोगों ने पहले कॉलेज जाने से मना किया। जब उसने कॉलेज जाना जारी रखा तो इस बात से नाराज दर्जन भर लोगों ने उसके कपड़े उतारकर पिटाई कर दी। बचाने पहुंचे उसके पिता को भी दबंगों ने नहीं बख्शा। उन्‍हें भी पीट-पीट कर जख्मी कर दिया।

सबसे शर्मनाक बात तो यह है कि पीड़िता ने जब इसकी सूचना स्थानीय थाने को दी तो थानेदार ने उस पर कोई कार्रवाई नहीं की। पर जब यह घटना एसपी सत्यवीर सिंह के संज्ञान में आया तब जाकर उनकी पहल पर घटना की एफआइआर दर्ज हुई। 

एफआइआर के अनुसार छात्रा ने आरोप लगाया है कि अशोक राम, राधेश्याम राम और मनोज राम बार-बार उसके साथ छेडख़ानी करते थे। जब उसने इसका विरोध किया तो इनलोगों ने समाज के लोगों को बहका कर उसे कॉलेज जाने से रोकने की कोशिश की। कॉलेज जाने पर अंजाम भुगतने की धमकी देने लगे। इसकी परवाह किए बगैर जब उसने कॉलेज जाना नहीं छोड़ा तब नाराज दबंगों ने इस तरह की वारदात को अंजाम दिया।

पीड़िता के अनुसार उसे सरेआम पकड़कर कपड़े उतारकर पीटा गया। इस दौरान वह छोड़ देने की गुहार लगाती रही, लेकिन किसी ने एक न सुनी। बचाने आए उसके पिता को भी पीटा। बुधवार को हुई घटना के बाद जब वह स्‍थानीय थाना गई, तो वहां मामला दर्ज करने से इन्‍कार कर दिया गया।

इसके बाद वह गुरुवार को एसपी से मिलकर घटना की जानकारी दी तो अशोक राम, राधेश्याम राम, मनोज राम, मनीष राम, दीपक राम, राजन राम सहित 13 लोगों के खिलाफ एफआइआर दर्ज की गई।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।