जनमंच न्यूज में प्रकाशित खबर का हुआ असर…अब नहीं करेगी आत्मदाह शिक्षिका, मिला वेतन

Janmanch News
JanManch News
Share this news...

आखिर विभाग में कहां फंसा था पेंच….

Santosh Raj
संतोष राज

समस्तीपुर (शिवाजीनगर)। उत्क्रमित मध्य विद्यालय घिवाहि की सहायक शिक्षिका रंजू देवी का वेतन विभाग की लापरवाही के कारण पिछले अगस्त 2015 से बंद कर दिया गया था।

इस बात को ले शिक्षिका ने स्थानीय बीईओ से लेकर मानवाधिकार आयोग तक आवेदन देकर गुहार लगायी थी। थक हार कर शिक्षिका ने 18 अक्टूबर 2017 को स्थानीय बीआरसी पर सभी परिवार के लोगों के साथ आत्मदाह करने का लिखित आवेदन दे डाली।

दिए आवेदन में शिक्षिका ने वेतन नही मिलने से आक्रोशित होकर आत्मदाह करने के लिए बीईओ, बीडीओ, ओपी अध्यक्ष, एसडीओ, जिलाधिकारी समेत मानवाधिकार आयोग जिम्मेवार होने की बात कही है।

जनमंच में प्रकाशित खबर….

18 अक्टूबर तक वेतन नहीं मिला तो करेगें आत्मदाह: जुलाई 15 से वेतन भुगतान नहीं होने से भुखमरी की स्थिति

दिए आवेदन की कॉपी जनमंच के रिपोर्टर को भी दिया गया। रिपोर्टर ने खबर के बाबत बीईओ रामप्रवेश सिंह से विभाग का पक्ष मोबाईल पर जानकारी ली।

इस बात को मीडिया में आते देख विभाग ने आनन-फानन में तीन दिनों के अंदर शिक्षिका को बकाया वेतन का भुगतान कर दिया। वेतन के मिलते ही शिक्षिका ने जनमंच के रिपोर्टर को मोबाइल पर बतायी की मेरा बकाया वेतन का भुगतान विभाग द्वारा कर दिया गया है।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।