Murder

चुनावी रंजिश में हुई निर्दोष की मौत

178

कीर्ति माला,

सिवान। नगर निगम के चुनाव परिणाम आने के बाद जीत की खुशी मनाते वक्त एक युवक की हत्या कर दी गई। देखते-ही-देखते जश्न मातम में बदल गया। सीवान में वार्ड संख्या 31 में नगर निकाय चुनाव का जश्न मनाने के दौरान युवक की हत्या कर दी गई।

परिजन की तरफ से नगर थाने में प्राथमिकी भी दर्ज करा दी गई है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। तीन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। फायरिंग दोनों पक्षों की ओर से की गई। पोस्टमार्टम के बाद देर शाम शव को मुखाग्नि दी गई।

हत्या के बाद मोहल्ले के कुछ लोगों ने बताया कि यह मामला पूरी तरह से चुनावी रंजिश का था। वसी अहमद पूर्व से ही इस वार्ड के पार्षद थे। उनके बाद इसकी कमान पुत्र इंतखाब अहमद ने संभाली। यह परिवार पूर्व से ही राजनीति में सक्रिय है।

नगर परिषद में लगातार आरटीआइ द्वारा एलईडी घोटाले के मामले को उजागर किए जाने के बाद इंतखाब अहमद की छवि लोगों और वार्ड के मतदाताओं के बीच अच्छी हो चुकी थी लेकिन आरक्षण में यह सीट महिला खाते में चली गई तो उन्होंने अपनी बूढ़ी मां नजमा खातून को मैदान में उतारा।

नजमा को पति तथा बेटे दोनों की अच्छी छवि का फायदा मिला और नगर परिषद में सर्वाधिक मतों से जीत दर्ज करने वाली उम्मीदवार बन गईं। और उनकी ये पुरानी रंजिश ने एक बेगुनाह को मौत की नींद सुला दी। पुलिस इस घटना के बाद चारों तरफ नजर रख रही है। अब स्थिति नियंत्रण मे है। घटना के बाद डीएम खुद वहां पहुंचे और घटना की पूरी जानकारी ली और स्थिति को नियंत्रण में किया।