नीतीश कुमार के आने के बाद हुआ चमत्कार, पहाड़ी की खुदाई में मिली भगवान बुद्ध की खंडित मूर्ति

Share this news...

राजेश चौरसिया की रिपोर्ट,

लखीसराय। लखीसराय की लाली पहाड़ी की खुदाई में रोज नए नए सामान मिल रहे हैं। सीएम द्वारा खुदाई कार्य का शुभारंभ के बाद विश्व भारती शांति निकेतन की टीम द्वारा लाली पहाड़ी के पुरातत्वि महत्व को सामने लाने के लिए खुदाई कार्य किया जा रहा है। खुदाई के दौरान टीम के सदस्यों को शनिवार को भगवान बुद्ध की मिट्टी के खंडित प्रतिमा मिली।

खंडित प्रतिमा का आकार छोटा है और वह चार भाग में बंटा हुआ था। शांति निकेतन के टीम द्वारा खुदाई के दौरान मिली पोर्टिको के आकार के आगे भाग की खुदाई की जा रही थी। इसी दरम्यान शनिवार को मिट्टी के नीचे से काफी पुराना भगवान बुद्ध का खंडित मूर्ति मिला।

Lord Buddha
Fragmented statue of Lord Buddha

टीम के सदस्यों खुदाई के दौरान उसी स्थान से भगवान बुद्ध की प्रतिमा के अलावा पूजा में उपयोग होने वाले मिट्टी का दीपक भी मिला है। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि बौद्ध साधक साधना के दौरान भगवान बुद्ध के छोटे आकार के मूर्ति को पास रख साधना करते थे। साधक द्वारा पूजा अर्चना के दौरान दीपक का उपयोग भी किया जाता होगा।

इससे पूर्व भी खुदाई में बौद्ध साधक द्वारा साधना के लिए उपयोग किए जाने वाले सेल (विशेष साधना कक्ष) भी मिल रहा है। इसके अलावा भवन के आगे की भाग में पोर्टिको के आकार का काला पत्थर लगा हुआ भाग भी मिला है। पोर्टिको वाले पार्ट के पीछे की ओर बौद्ध साधक के बैठने के लिए उपयोग में लाए जाने वाले पत्थर का चबुतरा भी मिला है।

भगवान बुद्ध की खंडित मूर्ति मिलने के बाद टीम में काम कर रहे शांति निकेतन के पुरातत्व विभाग के स्कालर भी काफी उत्साहित थे। वहीं सुरक्षा के लिए पुलिस पदाधिकारी एवं बल की प्रतिनियुक्ति रहने के बावजूद काफी संख्या में खुदाई कार्य देखने के लिए स्थानीय वहां जमा हो रहे हैं।

Share this news...