चकिया एसडीएम नें दिव्यांग शिक्षक को धक्के देकर निकाला परीक्षा कक्ष से बाहर

एसडीएम
A Divyang Teacher has been allegedly misbehaved by Chakia SDM.
Share this news...

बोर्ड परीक्षा में कमरें में ड्यूटी के दौरान दिव्यांग शिक्षक के पास नही था आईडी कार्ड…

–सुरेश मौर्या

चंदौली: बनारस के पड़ोसी जिले चंदौली के एक स्कूल में बोर्ड परीक्षा में शनिवार को एसडीएम निरीक्षण करने पहुंचे। इस दौरान एक दिव्यांग कक्ष निरीक्षक के पास आईडी कार्ड न होने पर एसडीएम ने उसको धक्का मारकर बाहर कर दिया।

आरोप है कि शनिवार को सुबह की पाली में इंटरमीडिएट गृह विज्ञान की परीक्षा के दौरान एसडीएम चकिया राम सजीवन मौर्य औचक निरीक्षण के लिए जिले के इलिया क्षेत्र स्थित दुर्गावती बालिका इंटर कालेज पहुंचे।

कमरा नंबर छह में प्रवेश करते हुए एसडीएम ने वहां ड्यूटीरत दिब्यांग कक्ष निरीक्षक कृष्ण मुरारी पांडेय से आईडी दिखाने को कहा। जिस पर आईडी कार्ड नहीं दिखा पाने पर एसडीएम नाराज हो गये और कक्ष निरीक्षक से दुर्व्यवहार करते हुए कक्ष से बाहर निकल जाने के लिए कहते हुए उसे धक्का दे दिया।

जिससे वह जमीन पर गिर पड़ा। घटना की जानकारी होते ही सभी कक्ष निरीक्षक लामबंद हो गये और परीक्षा समाप्ति के बाद कार्यालय के बाहर प्रदर्शन किया।

दूसरी तरफ जब एसडीएम से इस बाबत बात की गयी तो उन्होने किसी प्रकार के दुर्व्यवहार से इंकार किया। उन्होने बताया कि कक्ष निरीक्षक बाहर धूप में बैठे थे, मेरी गाड़ी देखकर शिक्षक दौड़कर कमरे में जा पहुंचे। इस दौरान ड्यू्टीरत कक्ष निरीक्षक से आईडी कार्ड की मांग की। आईडी कार्ड नहीं होने कक्ष से बाहर जाने को कहा गया था।

शिक्षामित्र संघ वाराणसी मंडल के अध्यक्ष भूपेंद्र कुमार सिंह एवं विजय श्याम तिवारी ने कहा कि एसडीएम राम सजीवन मौर्य द्वारा ड्यूटी कर रहे शिक्षामित्र कृष्ण मुरारी पांडेय के साथ किया गया व्यवहार अशोभनीय एवं शिक्षक की गरिमा के खिलाफ है। एसडीएम के इस अभद्र व्यवहार से आहत शिक्षामित्र बोर्ड परीक्षा ड्यूटी का बहिष्कार करेंगे।

दोनों मंडल अध्यक्षों ने कहा कि शिक्षामित्रों के मान सम्मान के साथ कोई समझौता नही किया जायेगा और एसडीएम के दुर्व्यवहार पर कार्रवाई नहीं हुई तो आंदोलन किया जाएगा।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।