मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चले प्रधानमंत्री के नक्शेकदम पर, मंच पर पहनाई चप्पलें

cm shivraj
Janmanchnews.com
Share this news...
Sarvesh Tyagi
सर्वेश त्यागी

सिंगरौली। सरई में गुरुवार को आयोजित तेन्दूपत्ता संग्राहक सम्मेलन में प्रदेश के मुखिया शिवराज सिंह चौहान शामिल हुए। कहा, महुआ बिनने वाले भाइयों को जूता एवं बहनों व भांजियों को चप्पल पहनाने का निर्णय लिया गया है। पानी पीने के लिए कुप्पी और साड़ी भी दूंगा। यह कार्यक्रम पूरे प्रदेश में होगा। शुरुआत सरई से हुई है।

मुख्यमंत्री ने कहा सरकार का उद्देश्य है योजना का लाभ पीछे व अंतिम पंक्ति में खड़े व्यक्ति को मिले। हवा पानी नदी में सबका हक है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस केवल जनता को गुमराह कर अपना काम साधती थी अब जनता समझ गयी है इसलिए पप्पू हर जगह फेल हो जाते हैं।

स्नेह बना रहे सीधी सिंगरौली संसदीय क्षेत्र की सांसद रीती पाठक ने तेंदूपत्ता संग्रहण लाभांश वितरण समारोह में कहा कि जब तक एक दाता के रूप में कोई व्यक्ति आता है तो कुछ देने के लिए आता है। मुख्यमंत्री का स्नेह सदा सिंगरौली पर बना रहे। इस धरा में हमेशा उपस्थित रहते हैं इससे बड़ी बात क्या होगी।

इस दौरान उद्योग एवं वाणिज्य मंत्री तथा सिंगरौली जिले के प्रभारी मंत्री राजेन्द्र शुक्ला, सीधी सांसद रीती पाठक, विविप्रा अध्यक्ष सुभाष सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष शीर्ष कांतदेव सिंह राजकुमार, विधायक रामलल्लू वैश्य, कुंवर सिंह टेकाम एवं राजेन्द्र मेश्राम, पूर्व विधायक विश्वामित्र पाठक, मेयर प्रेमवती खैरवार, जिला पंचायत अध्यक्ष अजय पाठक, जिला पंचायत उपाध्यक्ष डॉ रवीन्द्र सिंह, भाजयुमो जिलाध्यक्ष विनोद चौबे, पूर्व जिलाध्यक्ष रामनिवास शाह, पूर्व सीडा उपाध्यक्ष नरेश शाह, के अलावा विविप्रा सदस्य व जिला उपाध्यक्ष रमापति जायसवाल, पूर्व जिलाध्यक्ष गिरीश द्विवेदी, पार्षद डीएन शुक्ला, रजनीश पाण्डेय, जनपद अध्यक्ष देवसर प्रीती देवेन्द्र पनाडिय़ा के साथ-साथ कलेक्टर अनुराग चौधरी, पुलिस कप्तान विनीत जैन, सिंगरौली एसडीएम विकास सिंह मौजूद थे।

अक्टूबर तक में जगमगाएगी ऊर्जाधानी मुख्यमंत्री ने सौभाग्य योजना की जानकारी देते हुए बताया कि सिंगरौली जिले के 56 हजार घरों में बिजली पहुंचाने का कार्य अक्टूबर महीने तक पूर्ण हो जायेगा और इस योजना के तहत गरीबों से मात्र 200 रुपए प्रतिमाह बिजली लिया जायेगा। अंत में मुख्यमंत्री ने सरई में आईटीआई व बाइपास निर्माण की मंजूरी की घोषणा की। मुख्यमंत्री एक रुपए प्रति किलो चावल, गेंहू एवं नमक बीपीएल धारियों को देने वाली योजना का भी जिक्र कर वाहवाही लेने का प्रयास किया।

दुर्घटना में मौत पर चार लाख की सहायता मुख्यमंत्री ने सरई में सभा को संबोधित करते हुए गत दिवस अमिलिया के सोन नदी जोगदहा पुल में हुई घटना पर दु:ख व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार ने निर्णय लिया है, मृतकों के परिजनों को 4 लाख रुपए का आर्थिक सहायता तथा अंतिम संस्कार के लिए 5-5 हजार रुपए की सहायता दी जायेगी।

उन्होंने कहा, पीएम का फोन आया था मुख्यमंत्री जैसे ही मंच पर पहुंचे और लोगों का अभिवादन करने के बाद मंचासीन हुए। अचानक मंच छोड़कर मुख्यमंत्री चल दिये। सीएम के मंच छोड़कर जाने के बाद सभा में उपस्थित जनता आश्चर्य रह गई। लोग समझ नहीं पा रहे थे कि मुख्मयंत्री कहां जा रहे हैं। बाद में कुछ देर बाद मुख्यमंत्री लौट कर मंच पर आये और मंच के माध्यम से बताया कि लंदन से पीएम नरेन्द्र मोदी एवं केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह का फोन आ गया था। इधर मुख्यमंत्री का उद्बोधन हो रहा था कि फिर से लंदन से पीएम का फोन आ गया और पांच मिनट का ब्रेक लगा बाहर चले गये। कुछ देर बाद फिर से तीसरी बार पीएम का फोन आया। मुख्यमंत्री बार-बार बताते रहे कि पीएम का फोन आ रहा है।

शंकर ने हांथो से बनाई टोपी शिव को पहनाई सरई क्षेत्र के साजापानी गांव निवासी शंकर सिंह ने अपने हाथों से बनाई टोपी मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को पहनाई। किसान के हाथों से बनाई टोपी पहन मुख्यमंत्री काफी खुश हुए। जिसके बाद उन्होंने टोपी पहनकर किसान के कला की तारीफ की।

मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा असमानता दूर होना चाहिए। दुर्घटना में मृत्यु पर चार लाख रुपए दिये जायेंगे। अंतिम संस्कार के लिए पांच हजार रुपए दिये जायेंगे। किसी गरीब का घर बिना बिजली का नहीं रहेगा।

अक्टूबर तक में पूरा सिंगरौली बिजली से रौशन होगा। सरई में आईटीआई कॉलेज खुलेगी। सरईसे बायपास स्वीकृत कर दिया जायेगा। गरीबों का बिजली बिल 200 रुपए से ज्यादा नहीं आना चाहिए। चार साल के भीतर सबके पक्के मकान बना दिये जायेंगे। गरीब परिवार के बच्चों को पढ़ाईके लिए मामा फीस देगा। किसी गरीब को बिना इलाज नहीं रहने देंगे। कुपोषण की गंभीर समस्या है। गर्भवती महिलाओं को चार हजार रुपए सरकार दे रही है। प्रसव के बाद सरकार 12 हजार रुपए दे रही है। वन विभाग की जमीन पर 2006 से कब्जा धारियों को पट्टा देंगे।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।