बेटियों ने दी मुखाग्नि

हादसे में कुल चार लोगों की मौत, दो घायल…एक ही घर से उठी तीन अर्थियां, बेटियों ने दी मुखाग्नि

70
Surendra Joshi

सुरेन्द्र कुमार जोशी

चूरू (तारानगर)। चूरू राजगढ़ रोड पर कल कार व पिकअप की टक्कर में हुई दो भाईयों उनकी पत्नी व एक उनके भानजे की मौत पर पूरा राजपूरा गांव शौक की लहर में डूब गया। जब तीनों शवों को सात्यूं में उनके निवास स्थान पर लाया गया था पूरा गांव मृतक के घर पहुंच गया।

ग्राम सात्यूं से जब तीनों शवों को अंतिम संस्कार के लिये श्मशान भूमी ले जाया जा रहा था तो उनकी अंतिम यात्रा में पूरा गांव गमगीन था। बेटियों भी श्मसान भूमी तक शव यात्रा में शामिल होकर मुखाग्नी दी।

गौरतलब है कि हादसे में शिक्षक धर्मवीर सिहाग व उसकी पत्नी कान्ता, धर्मवीर का भाई शिक्षक कन्हैयाल व उनके भानजे दीपेश फगेड़िया की मौत हो गई।

ग्राम सात्यूं में धर्मवीर, कन्हैयालाल व कान्ता का अंतिम संस्कार किया गया व भान्जे दीपेश फगेड़िया का अंतिम संस्कार गेटा का बास झुन्झुनू में किया।

शव यात्रा में चूरू सांसद राहुल कस्वां, चूरू जिला प्रमुख हरलाल सहारण, पूर्व राज्य सभा सांसद नरेन्द्र बुडानियां, तारानगर विधानसभा विधायक जयनारायण पूनीयां, पूर्व विधायक डाॅ. चन्द्रशेखर बैद, राकेश जांगीड़, नरेन्द्र दूत निर्मल प्रजापत सहित काफी संख्या में राजनैतिक पार्टीयों के पदाधिकारीयों सहित गांव के सैंकड़ों लोग शामिल होकर अंतिम विदाई दी।