हत्या

खून से लथपथ मिला युवक का शव, सनसनी

69

पुलिस टीम जुटी जॉच में…

Aslam Ali

असलम अली

 

 

 

 

 

 

मिर्जापुर (नारायनपुर): अदलहाट थाना क्षेत्र के निजामुद्दीनपुर व रैपुरिया गांव के मध्य बैकुंठपुर माइनर के पास सोमवार की सुबह एक युवक का खून से लथपथ शव पड़ा मिला। ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर डाग स्क्वायड द्वारा जांच पड़ताल करते हुए काफी माथा-पच्ची करने के बाद प्रधान द्वारा मोबाइल पर फोटो देख शिनाख्त करने के बाद मृतक के परिजनों को सूचना दी गई। सूचना पर पहुंचे मृतक के चाचा ने हत्या की आशंका जताते हुए चार लोगों के खिलाफ नामजद तहरीर दी।

वही पुलिस हत्या में प्रयुक्त खून लगा ईंट का टुकड़ा व डंडा तथा गमछा घटनास्थल से बरामद किया। चुनार कोतवाली क्षेत्र के जलालपुर माफी गांव निवासी अतुल पटेल (26) बीटेक इंजीनियर था लेकिन उसकी कही तैनाती नहीं थी। एक साल पूर्व ही कोर्स पूरा होने के बाद से ही वह अपने घर चाचा के साथ रहता था। मृतक के बड़े चाचा अनिल सिंह ने बताया कि गांव की एक महिला के घर अतुल का आना जाना था। जिसके चलते उससे संबंध हो गया था। बताया उक्त महिला का मायका निजामुद्दीनपुर में ही है। महिला ने किसी प्रकार अतुल को नारायणपुर बुलाया और महिला के पति, चाचा, ससुर व भाई ने मिलकर हत्या कर नहर के किनारे शव फेंकने की आशंका जतायी।

घटना की जानकारी होते ही अदलहाट थाना प्रभारी निरीक्षक बृजेश सिंह, चौकी प्रभारी नारायणपुर ज्ञानेंद्र सिह, फिल्ड यूनिट प्रभारी अवधेश उपाध्याय, एसओजी टीम प्रभारी रामस्वरूप वर्मा व डाग स्क्वायड की टीम पहुंच गई थी। पुलिस ने मौके पर से खून से सना ईंट का टूकड़ा व लकड़ी का डंडा व खून से सना गमछा बरामद कर लिया है। घटना स्थल से कुछ ही दूरी पर कूंचकर फेंकी गई सैमसंग कंपनी की मोबाइल व सिम के आधार पर मृतक की जानकारी के साथ पुलिस हत्यारों को ट्रेस करने में लगी हुई है।

प्रधान द्वारा की गई शिनाख्त
बैकुंठपुर माइनर के पास मिले युवक के शव की शिनाख्त कराने में पुलिस को काफी माथा-पच्ची करनी पड़ी। घटना स्थल से कुछ दूर पर कूंचकर फेंकी गई मोबाइल व उसके सीम को बरामद किया। पुलिस ने उक्त सीम को मोबाइल में लगाया तो उसी दौरान फोन आया और फोन करने वाला अपना नाम बबूल व पता जलालपुर माफी बताया और फोन काट दिया। इसी आधार पर पुलिस ने जलालपुर प्रधान के मोबाइल पर मृतक का फोटो खींचकर भेजा और उसके बारे में पूछताछ किया तो प्रधान ने मृतक को अतुल के रुप में पहचान किया।


लड़की के पैर के मिले निशान
इस संबंध में चौकी प्रभारी नारायणपुर ने बताया कि हत्यारों ने मृतक को किसी बहाने से बुलाकर पहले केशरिया रंग के गमछे से गला दबा दिया। उसके बाद लकड़ी के डंडे से सिर में मारकर हत्या करने के बाद शव को नहर के किनारे फेंक दिया है। बताया कि नहर के गिली मिट्टी होने के कारण उस स्थान पर मिले निशान में एक लड़की के पैर के मिले है। निशान के आधार पर आशनाई के चक्कर में हत्या लग रही है। थानाध्यक्ष अदलहाट बृजेश सिह ने बताया हत्या का सुराग मिल गया है। हत्यारे जल्द ही पुलिस के गिरफ्त में होंगे। मृतक के माता-पिता नहीं है।

मृतक अतुल पटेल के पिता बेचूराम पटेल व माता का काफी पहले देहांत हो चुका है। अतुल की एक बड़ी बहन है जिसकी शादी हो चुकी है और एक छोटा भाई है जो बिहार में नौकरी करता है।