दहेज के लिए प्रताड़ित करने पर बहू ने लगाई फांसी, पति व सास पर आत्महत्या के लिए उकसाने और साक्ष्य छुपाने का केस दर्ज

Suicide
Janmanchnews.com
Share this news...
Anil Upadhyay
अनिल उपाध्याय

देवास। जिले के खातेगांव पुलिस थाना अंतर्गत ग्राम मनोरा में 19 अप्रैल को नवविवाहिता को पति व देवर खातेगांव के सरकारी अस्पताल में लेकर आए थे।

उन्होंने कहा कि किसी कारण से महिला की मृत्यु हो गई है। पुलिस ने मर्ग कायम कर लिया प्रथम दृष्टया मामला संदिग्ध लग रहा था। इसलिए एस डी ओ पी शेर सिंह भूरिया ने मामले में जांच की तो पता चला कि नवविवाहिता ने ससुराल वालों से प्रताड़ित होकर घर में फांसी लगाकर जीवन लीला समाप्त कर ली थी। जांच के बाद पुलिस ने सास व पति के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने और साक्ष छुपाने  का केस दर्ज कर लिया है।

खातेगांव थाना प्रभारी टीआई तहजीब काजी ने बताया कि रितु पति गोविंद सुतार उम्र 25 वर्ष निवासी ग्राम मनोरा को पति गोविंद देवर अस्पताल में मृत अवस्था में गत 19 अप्रैल को लाए थे महिला को 6 माह का गर्भ भी था। महिला की मौत पर संदेह होने पर मर्ग कायम कर एसडीओपी ने मामले की जांच शुरू की जांच में पता चला कि आरोपी पति गोविंदा उसकी मां गुलाबबाई पति श्रीराम विवाहिता को शादी के बाद से ही प्रताड़ित करते थे। महिला ने परेशान होकर जीवन लीला समाप्त कर ली महिला ने घर पर फांसी लगाई थी उसका पति व सास पुलिस को शुरू में कह रहे थे कि इसमें कुछ जहरीला पदार्थ खा लिया है।

जिससे उसकी मृत्यु हो गई मृत्यु किस वजह से हुई इसकी सही जानकारी महिला के मायके वालों को भी ससुराल वालों ने दी थी मायके वालों के बयान के आधार पर जब पूछताछ की तो उन्होंने बताया की फांसी लगा ली थी पुलिस ने आरोपीगणों के खिलाफ धारा 304 बी के साथ साक्षी पाने का मामला भी दर्ज किया हैं।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।