Murder plan

पत्नी से छेड़छाड़ पर छोटे भाई ने की बड़े भाई की हत्या

42
Anil Upadhyay

अनिल उपाध्याय

देवास। देवास जिले के पीपलरावां थाना अंतर्गत बालोद पुलिस चौकी के ग्राम सेडू में 16 जून को मिली लाश के मामले का पीपलरावाम पुलिस ने शुक्रवार को खुलासा किया है। पुलिस ने बताया कि मृतक के दोनों संगे छोटे भाइयों ने ही उसकी हत्या की थी। आरोपियों ने मृतक को छोटे भाई की पत्नी से छेड़छाड़ करते हुए देख लिया था जिसके बाद दोनों ने ले जा कर उसकी हत्या कर दी।

पीपलरावां थाना पुलिस ने एक अंधेकत्ल की गुत्थी सुलझाते हुए दो आरोपियों को गिरफ्तार करने में सफलता अर्जित की है। पुलिस ने इन दोनों को न्यायालय में पेश किया। जहां से जेल भेज दिया गया। पुलिस के मुताबिक गत 16 जून की सुबह पीपलरावां थानांतर्गत ग्राम सेंडू में कृषक अमरसिंह के खेत से 45 वर्षीय व्यक्ति की लाश मिली थी।

पुलिस ने मृतक की जेब से एक चाकू व सल्फास की डब्बी भी बरामद की थी। मृतक की शिनाख्त भगवानसिंह पिता रामचंद्र गुर्जर के रूप में की गई थी। मामला आत्महत्या का प्रतीत हो रहा था, लिहाजा पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम हेतु टोंकखुर्द भेज दिया और मर्ग कायम कर जांच शुरू की। 

20 जून को पोस्टमार्टम रिपोर्ट आई। जिसमें खुलासा हो गया कि मृतक ने आत्महत्या नहीं की, बल्कि उसकी हत्या की गई। अनुसन्धान में गांव के कई लोगों से पूछताछ करने पर पता चला कि मृतक 15 जून की शाम 6 बजे घर की ओर जाते देखा गया था और रात को 2 बजे उसके परिजन बाइक से अमरसिंह के खेत की तरफ जाते देखे गए थे। परिजनों व ग्रामीणों के विरोधाभासी बयान से पुलिस का शक परिजनों पर गया। जब गहन तो मृतक का सबसे बड़ा भाई बालू गुर्जर टूट गया और रोने लगा।

बाद में उसने अपराध स्वीकार करते हुए बताया कि उसके सबसे छोटे भाई फूलसिंह की पत्नी के साथ मझले भगवानसिंह को छेड़छाड़ करते देख लिया था, इसीलिए फूलसिंह ने उसकी हत्या कर दी और रात 2 बजे हम दोनों भागवान की लाश को मोटर सायकिल पर रखकर ले गए तथा अमरसिंह के खेत पर फेंक आए, ताकि पुलिस को हम पर शक न हो।

बताया जाता है कि मृतक आपराधिक प्रवृति का होकर बार-बार फूलसिंह की पत्नी के साथ छेड़छाड़ करता था और परिजनों को परेशान भी करता था। अपराध स्वीकार करने के बाद पुलिस ने दोनों भाई फूलसिंह व बालू गुर्जर को गिरफ्तार न्यायालय में पेश किया, जहां से दोनों को जेल भेज दिया गया।