दलित नेता एवं पत्रकार ने लगाए अत्याचार के आरोप

दलित नेता एवं पत्रकार जोगेन्द्र कुमार सागर
Share this news...
Omprakash Varma
ओमप्रकाश वर्मा
धौलपुर। उभरते दलित नेता एवं पत्रकार जोगेन्द्र कुमार सागर ने पुलिस पर दलित, कमजोर एवं पिछड़ों पर अत्याचार के आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा है कि पुलिस उन लोगों पर जमकर अत्याचार कर रही है, जिनका कोई धनीधोरी नहीं है और आर्थिक रूप से पिछड़े हैं।

सागर ने कहा कि कमजोर, पिछड़े और आर्थिक रूप से कमजोर लोगों पर अत्याचार तो सदियों से होता आया है, लेकिन भाजपा के राज में अत्याचार की पराकाष्ठा हो गई है, इसके लिए शीघ्र ही जन जाग्रति अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने भाजपा राज में पत्रकारों पर भी अत्याचार के आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद पहली बार पत्रकारों के खिलाफ झूठे मामले दर्ज कर जेल भिजवाया गया है। इससे वसुंधरा सरकार की सामंतशाही मानसिकता परिलक्षित होती है।

सागर ने कहा कि पिछले 4 साल में केवल धौलपुर जिले में ही 7 पत्रकारों के खिलाफ झूठे मामले दर्ज कर जेल भिजवाया गया है, इसके बावजूद वसुंधरा सरकार ने जिला पुलिस अधीक्षक को घर का रास्ता नहीं दिखाया है। वह खुले आम गैर कानूनी कार्यों को संरक्षण ही प्रदान नहीं कर रहा है, बल्कि अनियमित पुलिस कार्यशैली को उजागर करने वाले लोगों को जान से मरदाने, झूठे मामलों में फंसाकर जिन्दगी बरवाद करा देने व गुण्डों से हमला करवा कर अपाहिज बना देने की धमकियां भी दिला रहा है।

इसके बावजूद जिले के कांग्रेसी नेता मौन साधे हुए हैं। उन्होंने आम जन में जाग्रति लाने के लिए देश व समाज प्रेमियों से आगे आने का आह्वान किया है।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।