नशे में धुत एएसआई को ग्रामीणों ने सिखाया सबक, की जमकर फजीहत

ASI police
Janmanchnews.com
Share this news...

चितरंजन कुमार की रिपोर्ट-

चतरा। कहा गया है कि पुलिस जनता की रक्षक होती है। लेकिन यही खाखी अगर आम लोगों के परेशानी का सबब बन जाए तो फिर क्या कहेंगे। जिले के इटखोरी थाना में पदस्थापित सहायक अवर निरीक्षक गिरधारी साईं ने नशे की हालत में खाखी की दामन को दागदार किया है। नशे की हालत में गली-मोहल्ले में घूमकर उत्पात मचा रहे एएसआई को ग्रामीणों ने पकड़ कर ना सिर्फ इटखोरी थाना को सौंपा है, बल्कि मौके पर ही जमकर उसकी फजीहत भी की है।

जानकारी के अनुसार आरोपी एएसआई गिरधारी साईं आधी रात को शराब के नशे में धुत होकर देवी मंडप स्थित ब्रह्मा चौक के पास भटक रहा था। इस दौरान उसने शोर-शराबा व गाली-गलौज करते हुए आसपास स्थित कई घरों के दरवाजे भी खुलवाने के प्रयास किए। जिसके बाद ग्रामीण जागे और हंगामा मचा रहे सहायक अवर निरीक्षक को दबोच लिया।

इसके बाद करीब एक घंटे तक ग्रामीणों ने उसकी मौके पर ही क्लास लगाई। हालांकि इस दौरान वह ग्रामीणों को देखकर भागने का भी प्रयास किया। लेकिन मौके से रफूचक्कर होने के चक्कर में वह पास में स्थित नाली में गिर गया। इसके बाद स्थानीय लोगों ने उसे पकड़ लिया और मामले की सूचना पुलिस कप्तान को दूरभाष पर देने का प्रयास किया। लेकिन दूरभाष पर संपर्क नहीं होने के कारण ग्रामीणों ने एएसआई के करतूतों की जानकारी थाना प्रभारी अशोक राम को दी।

इसके बाद इटखोरी थाना की पुलिस मौके पर पहुंची और ग्रामीणों के चंगुल से शराब के नशे में धुत एएसआई को छुड़ाकर अपने साथ ले गई। लेकिन मजे की बात तो यह रही कि ग्रामीणों के चंगुल में फंसे पुलिस अधिकारी को छुड़ाने पहुंचे पुलिस टीम के अधिकारी भी गाड़ी में खर्राटे लेते रहे। जिसका ग्रामीणों ने जमकर विरोध किया। ग्रामीणों का आरोप है कि एएसआई गिरधारी साईं प्रत्येक दिन रात के अंधेरे में शराब पीकर मोहल्ले में प्रवेश करता है और गलत नियत से लोगों के घरों का दरवाजा खुलवाने का प्रयास करता है।

एएसआई के इस घिनौनी करतूत से ना सिर्फ मोहल्लेवासी परेशान है बल्कि घर के महिलाओं का बाहर निकलना भी दुभर हो गया है। सबसे मजे की बात तो यह है कि शराब के नशे में धुत एएसआई को पकड़े जाने के बाद भी अपनी गलती का एहसास नहीं हुआ और वह मजे से शराब पीने और उत्पात मचाने की बात स्वीकार करता रहा।

ग्रामीणों के अनुसार इस बाबत कल एक प्रतिनिधिमंडल एसपी से मिलकर इटखोरी थाना में कार्यरत शराबी पुलिस पदाधिकारियों व जवानों की शिकायत करेगा। ग्रामीणों ने कहा है कि पुलिस कप्तान द्वारा ऐसे अधिकारियों पर कार्रवाई नहीं की जाती है तो बाध्य होकर आंदोलन का रुख अख्तियार करना पड़ेगा।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।