रंगदारी

जौनपुर में फिर बढ़ी रंगदारी, डॉक्टर के बाद अब किराना व्यवसायी की बारी

18

बेखौफ बदमाशों का मनोबल सातवें आसमान पर…

Shabab Khan

शबाब ख़ान (वरिष्ठ पत्रकार)

 

 

 

 

 

 

जौनपुर: जिले में चौपट कानून व्यवस्था के बीच बेखौफ बदमाशों का मनोबल सातवें आसमान पर है। डाक्टर से 50 लाख रंगदारी वसूलने की घटना अभी शांत नहीं हुई थी कि मंगलवार को बदलापुर के किराना व्यवसायी संजय निगम से बदमाशों ने दो लाख की रंगदारी मांगी है।

धमकी दी है कि तीन दिन में पैसा नहीं मिला तो अंजाम बुरा होगा। घटना के बाद कारोबारियों में आक्रोश है। उधर, पुलिस किराना व्यवसायी की तहरीर पर केस दर्ज कर जांच पड़ताल में जुटी है।

किराना व्यवसायी संजय निगम के मुताबिक मंगलवार की शाम वह अपनी दुकान पर मौजूद थे। तभी बाइक पर सवार तीन की संख्या में बदमाश उनके पास पहुंचे और उनकी कनपटी पर असलहा सटा दिया। कहा कि दो लाख रुपये का बंदोबस्त कर दो, वरना जान से हाथ धोना होगा।

उन्होंने मौके पर रुपये न होने की बात कही ती बदमाशों ने तीन दिन के भीतर रुपयों का इंतजाम करने की धमकी दी और चले गए। तीन दिन के भीतर रुपये न देने पर जान से मारने की धमकी दी है।

डॉक्टर ने बजरंगी के दरबार में लगाई थी हाजिरी
अभी हाल ही में बदमाशों ने शहर के एक प्रतिष्ठित डाक्टर से मुन्ना बजरंगी के नाम पर दो करोड़ की रंगदारी मांगी थी। 50 लाख रुपये डाक्टर ने दे भी दिए थे। पुलिस सूत्रों की मानें तो डाक्टर को शक हुआ तो वह अपने करीबियों के साथ झांसी जेल पहुंचे जहां उन्होंने मुन्ना बजरंगी से मुलाकात की।

जब मुन्ना ने कहा कि उन्होंने कोई फिरौती नहीं मांगी है। तब डाक्टर ने एसटीएफ को जानकारी दी। जिले की पुलिस पर डाक्टर को विश्वास नहीं हुआ कि पुलिस उनकी मदद कर सकती है। इस मुद्दे को लेकर डीजीपी ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के दौरान एसपी को फटकार लगाई थी।

देखा जाए तो पुलिस बदमाशों के पीछे भाग रही है। बदमाशों को पुलिस का कोई भय नहीं है। क्षेत्राधिकारी बदलापुर अवधेश शुक्ला का कहना है कि रंगदारी मांगने की घटना में केस दर्ज कर छानबीन की जा रही है।