बारिश की कमी होना बढ़ रहा है किसानों में चिंता का विषय

photo
janmanchnews.com
Share this news...

राजेश कुमार मेहता-

डोमचांच। सतगावां प्रखंड में इन दिनों इन्द्र भगवान की किसानों के प्रति उदासीनता देखने को मिल रहा है। यह क्षेत्र भीषण गर्मी के चपेट में है किसानों द्वारा लगाए गए धान के बिचडे, मक्का, अरहर आदि सूख रहे है। जिससे यहां के किसान काफी चिंतित है। एक ओर सरकार कई ऐसे किसानों को राशन कार्ड मुहैया नहीं कराये है।

जिससे रामशला, समलडीह, वैद्यडीह, सिहास, मरचोई, कटहरा, समलडीह आदि गांव के दर्जनों किसान प्रतिदिन इस तपती धूप में ब्लाॅक का चक्कर लगा रहे हैं। प्रखंड के पदाधिकारियों के द्वारा सिर्फ आश्वासन ही मिल पाती है। यहां एमओ से लेकर बीडीओ, सीओ अतिरिक्त प्रभार में हैं जिसे ग्रामीणों के बीच समय नहीं दे पाते है।

दर्जनों ग्रामीण इन पदाधिकारियों के आस में भटकते रहते हैं रामशला के ग्रामीण अनिता देवी, नीलू देवी, मीना देवी, रीना देवी, नशपती देवी, शीला देवी, सुनीता देवी, सविता देवी आदि ने बताया कि पिछले एक वर्षों से राशन कार्ड के लिए प्रखंड मुख्यालय का चक्कर लगा रहे हैं। आनलाइन होने के बावजूद आजतक सरकार द्वारा राशनकार्ड उपलब्ध नही कराया गया है।

ऐसे में यहां की जनता में आक्रोश है आने वाले चुनाव का बहिष्कार करने का मंशा बनाये हुए हैं और कहा है कि अमीरों की सरकार हैं गरीबों को कोई लाभ नहीं मिल रहा है ब्लाॅक में दलालों का राज्य है यहां मुखिया के सभी रिश्तेदारो का कार्ड मुहैया कराया गया है, पर हम भूमिहीन ग्रामीणों को कोई लाभ नहीं मिला वहीं दूसरी ओर इस क्षेत्र में भीषण गर्मी का प्रकोप है।

जिससे किसानों द्वारा बेशकीमती धान का बिचडा बाजारों से खरीदकर बुनाई की गई है पर सारे बिचडे पानी के अभाव में मर रहा है। इसपर न प्रखंड प्रशासन की नजर है, न जिला प्रशासन की किसान चिंतित है। किसानों द्वारा पिछले कई वर्षों से लगातार फसल बीमा खरीफ व रवि फसल की कराई गई थी। फसल मरने के बाद भी आजतक उसका कोई लाभ किसानों को नही मिल पाया जिससे किसानों की हालत गंभीर है और खेती से सब मुंह मोडने के कगार पर है।

यहां’ के किसान बिल्कुल बेरोजगार हो गए है और शहरों के लिए पलायन कर रहे है। इसपर प्रखंड प्रमुख करीना देवी, ईटायं मुखिया सरिता सरोज,मरचोई मुखिया पिंकी देवी, टेहरो मुखिया शर्मीला देवी, राजावर मुखिया परमेश्वर शर्मा, समलडीह मुखिया करण राम, माधोपुर सुनील सिंह आदि ने किसानों के हित के लिए पूर्व में किए गए।

फसल बीमा का लाभ दिलाने का मांग मुख्यमंत्री से की है और कहा है कि किसानों को दूसरे शहरों से पलायन के रोकना होगा इसके लिए समुचित किसान हित की योजनाओं का संचालन शुरू की जाय ताकि किसानों का दूसरे शहरों में पलायन न हो।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।