ब्लू व्हेल गेम में फंस चुकी है कांग्रेस, अंतिम एपिसोड 18 दिसंबर को: प्रधानमंत्री

pm-modi
Janmanchnews.com
Share this news...

राहुल गांधी द्वारा लगाये आरोपो का जवाब देते हुए मोदी नें कहा कि कांग्रेसजन गुजरातियों को मूर्ख समझ रहें हैं

Shabab Khan
शबाब ख़ान (वरिष्ठ पत्रकार)

पाटन (उत्तरी गुजरात): “कांग्रेस ब्लू व्हेल गेम जैसी चुनौती में फंस गई है, जिसका अंतिम राऊंड हम 18 दिसंबर को देखेंगे”, प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को विपक्षी दल पर हमला करते हुए कहा।

उत्तर गुजरात के दूसरे और अंतिम चरण के विधानसभा चुनाव के प्रचार अभियान के आखिरी दिन उत्तरी गुजरात में एक रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कांग्रेस के नये अध्यक्ष राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए कहा कि राहुल नें मुंह में “स्वर्ण चम्मच” के साथ जन्म लिया है और उनका कभी गरीबी से आमना-सामना नहीं हुआ है, एेसे में वो गरीबों का क्या दर्द समझेगें।

उन्होंने राहुल गांधी द्वारा लगाए गए उन आरोपों को भी खारिज कर दिया जिसमें राहुल नें कहा था कि मोदी जी केवल कुछ उद्योगपतियों के लिए काम करते है। इसके उलट उन्होने राहुल गांधी पर गुजरात के बारे में “झूठ और आधा सत्य” फैलाने का आरोप लगाया, उन्होने कहा कि कांग्रेस राज्य के लोगों की बुद्धिमत्ता को दर किनारे कर उन्हे मूर्ख बनाने और अपमानित करने का प्रयास कर रही है।

“जब संकेत मिल रहे हैं कि पहले दौर (9 दिसंबर को हो चुके मतदान) में भाजपा विजयी हो गई है, तो कांग्रेस के लोग राहुल गांधी का बचाव करने के तरीके तलाशने में व्यस्त हो गये, मतदान शुरू होने के एक घंटे बाद, वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं ने ईवीएम… ईवीएम… ईवीएम का राग अलापना शुरू कर दिया।

उन्होने कहा कि कांग्रेस के एक वरिष्ठ नेता नें यहां तक दावा कर डाला कि ईवीएम को ब्लूटूथ से कनेक्ट करके उसे हैक किया गया था। “वे यह नहीं समझते कि ईवीएम एक स्टैंडअलोन मशीन है, इसमें कोई इंटरनेट नहीं है, यह ब्लूटूथ से जुड़ा नहीं हो सकता। “क्या आप अपनी पेन को ब्लूटूथ से जोड़ सकते हैं?” मोदी ने भीड़ से पूछा। “वे ब्लूटूथ, ब्लूटूथ (एक कम-पावर वायरलेस कनेक्टिविटी प्रौद्योगिकी) चिल्ला रहे हैं, लेकिन वास्तव में वे ब्लू व्हेल गेम में फंस गए हैं और खेल का अंतिम एपिसोड 18 दिसंबर को खेला जाएगा,” मोदी ने कहा।

गौरतलब है कि गुजरात चुनाव के लिए वोटों की गिनती 18 दिसंबर को होगी। ब्लू व्हेल एक मोबाइल गेम है जिसमें प्रतिभागियों को कई चुनौतियों को पूरा करने के लिए निर्देश दिया जाता है – जिनमें से अंतिम चुनौती आत्महत्या करने की होती है। रिपोर्टों के मुताबिक, बड़ी संख्या में युवा इस खेल को खेलकर अपना जीवन समाप्त कर चुके है।

मोदी ने आरोप लगाया था कि गांधी उनके खिलाफ झूठे आरोप लगा रहे हैं। “कांग्रेस के नेता, जिनके कंधे पर पार्टी की पूरी जिम्मेदारी आ गई है, ने दिन और रात मुझ पर आरोप लगाया है कि मोदी देश के पांच शीर्ष उद्यमी के लिए काम करते हैं।” उन्होने उपस्थित लोगों से पूछा कि “आपने मुझे 13-14 सालों तक मुख्यमंत्री के रूप में काम करते देखा है। क्या मैंने कभी कुछ गिने-चुने उद्योगपतियों के लिए काम किया है?” रैली में मौजूद लोगों नें जोरदार “नहीं” के साथ जवाब दिया।

प्रधान मंत्री ने अपनी सभा में उपस्थित लोगों से इस तरह के “निराधार” आरोपों का “बदला” भाजपा को वोट देकर लेने को कहा।

उन्होंने कहा कि गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में उन्होंने ‘शाला प्रवेशोत्सव’ (स्कूल नामांकन अभियान) का संचालन किया था, जिसके तहत वह हर साल गांवों में जाकर विद्यालयों में 100 प्रतिशत पंजीकरण सुनिश्चित कराते थे। “क्या यह अंबानी या राज्य के गरीब बच्चों के लिए यह काम था? मैं हर साल ‘कृषि महोत्सव’ का आयोजित करता था, जिसमें मुख्यमंत्री सहित पूरी सरकारी मशीनरी गांवों में जाकर नई तकनीक पर किसानों का मार्गदर्शन करती थी, क्या यह काम अंबानी-अडानी, टाटा-बिड़ला या देश के गरीब किसानों के लिए किए जानें वाले काम हैं?”

मोदी ने राहुल गांधी के दावों को झूठ करार दिया और राहुल पर निशाना साधते हुए कहा कि “आपने देखा नहीं है कि गरीबी क्या है। आपको पता नहीं है कि नंगे पॉव चलने पर जब कंकड़ चुभ जाता है तो कैसे दर्द होता है।”

उन्होंने कहा कि गांधी का आरोप है कि मोदी देश के 5-10 शीर्ष उद्यमी के लिए काम करते हैं। “आप लोगों को बेवकूफ बनाने की कोशिश कर रहे हैं। आप इस राज्य के लोगों का अपमान कर रहे हैं, आप मतदाताओं को मूर्ख बना रहे हैं और यह चुनाव परिणामों में गुजरात की जनता दिखा देगी।”

93 विधानसभा सीटों के लिए मतदान का दूसरा और अंतिम चरण 14 दिसंबर को होगा।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।