सनसनी: पत्रकार से बदला लेने के लिए उसकी पोती को अगवा कर किया दुष्कर्म फिर निर्मम हत्या

Demo Photo
Share this news...
Sarvesh Tyagi
सर्वेश त्यागी

ग्वालियर। शहर में घटी हृदयविदारक और अमानवीय घटना के चालीस घंटे बीत जाने के बावजूद एक अबोध बच्ची को अगवा कर उसले साथ पैशाचिक कुकृत्य करने के बाद हत्या करने वाले राक्षस आरोपी का अभी तक पुलिस कोई सुराग नहीं लगा सकी है। आरोपी बच्ची को ले जाते हुए सीसीटीवी में कैद हुआ है बावजूद इसके पुलिस के हाथ फिलहाल खाली है।

इस घटना में पुलिस का असंवेदनशील चेहरा भी सामने आया। घटना की सूचना मिलने के बावजूद पुलिस ने मामले को गंभीरता से नहीं लिया। यहां तक कि रात को या सुबह पुलिस ने बच्ची को ढूंढने की कोई कोशिश नहीं की। वह गुमशुदगी की रिपोर्ट डलवाने में ही जुटी रही। सबेरे भी परिवार वालों ने ही सीसीटीवी फुटेज खंगाले और उन्होंने ही शव को खोजा। मृतका के दादा पत्रकार हीरा सिंह यादव पुलिस के रवैये से वेहद खफा दिखे।

उन्होंने बताया कि पुलिस ने कोई सुनवाई नहीं की अगर वह रात को ही एक्टिव हो जाती तो बच्ची बच सकती थी। लेकिन जब उन्होंने भोपाल में अपने एक परिचित एडीजी स्तर के अधिकारी को जानकारी दी और उन्होंने दो बार फ़ोन किया तब पुलिस हरकत में आई।

क्या है पूरा मामला…

मध्य प्रदेश के ग्वालियर से दिल दहला देने वाला मामला सामने आया। यहां अपने परिजनों के साथ शादी समारोह में शामिल होने आई एक 6 साल की बच्ची की अगुवा कर हत्या कर दी गई है। माना जा रहा है बच्ची की हत्या घिनोनी वारदात को अंजाम देने के बाद की गई है। फिलहाल आरोपी अज्ञात है और पुलिस के हाथ सीसीटीव्ही फुटेज लगे हैं जिनके आधार पर आरोपी की शिनाख्ती ओर उसकी धरपकड़ के प्रयास शुरू कर दिए गए हैं।

भिंड जिले के मौ कस्बे में राधा कृष्ण यादव रहते हैं। राधा कृष्ण के पिता हीरा लाल यादव पेशे से पत्रकार बताए गए हैं। राधा कृष्ण अपने परिवार के साथ बुधवार को ग्वालियर में एक शादी में शामिल होने आए थे। बुधवार की रात बच्ची सौम्या करीबन 11 बजे गुम हो गई। काफी तलाश के बाद नहीं मिली तो वे रिश्तेदारों के साथ गुमशुदगी दर्ज कराने कम्पू थाने पहुचें।

गुरुवार सुबह जब राधा कृष्ण थाने में मौजूद थे तभी उन्हें सूचना मिली की शादी समारोह स्थल से कुछ दूर पहाड़िया परएक बच्ची का शव पड़ा है। सभी लोग पहाड़िया पर पहुचे तो बच्ची की शिनाख्त सौम्या यादव के रूप में हुई। प्रारंभिक तौर पर देखने से लगता है बच्ची के साथ पहले दुष्कृत्य किया गया और बाद में उसकी हत्या कर दी गई। हालांकि पुलिस दुष्कृत्य की पुष्टि नहीं कर रही है और मेडिकल रिपोर्ट आने का इंतजार कर रही है।

पुलिस को कम्पू स्थित आयुर्वेदिक कॉलेज के पास बने सामुदायिक भवन से तो आरोपी का कोई सुराग हाथ नहीं लगा है लेकिन आस पड़ोस से सीसीटीव्ही फुटेज देखने पर बच्ची एक युवक के साथ जाती जरूर दिख रही है। आरोपी अभी अज्ञात बताया जा रहा है पुलिस सीसीटीव्ही के आधार पर आरोपी की तलाश में जुट गई है।

मामले की जांच कर रहे सीएसपी धर्मराज मीणा का कहना है पुलिस ने इन मामले में कई लोगों से बात की है और कुछ सुराग भी हाथ लगे है, आसपास के इलाके के सीसीटीवी फुटेज की भी मोनिटरिंग कर रहे है उम्मीद है जल्द ही आरोपी गिरफ्त में आएगा।

मासूम के लिए सड़क पर उतरे लोग…

केंसर पहाडी पर अपनी जान गंवाने वाली मासूम को इंसाफ दिलाने के लिए लोग सड़क पर उतरना शुरू हो गए है। पुलिस पर आरोपी को जल्द से जल्द पकडने का दवाब बनाने के लिए सुबह हजीरा चैराहे पर दिव्य शिक्षा संस्थान द्वारा कैंडिल मार्च निकाला गया और मासूम को श्रद्धाजलि दी गई।

इस दौरान यहां बडी संख्या में महिलाएं भी मौजूद रहीं इसके साथ ही कांग्रेश पार्टी का एक प्रतिनिधि मंडल आज एसपी आॅफिस पहुंचा और एसपी नवनीत भसीन को ज्ञापन देकर मासूम के हत्यारों को जल्द से जल्द पकडने की मांग की।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।