अब राधे की बारी: हाई कोर्ट का नोटिस

Radhe Maa
File Photo- Radhe Maa
Share this news...
Chandan kumar
चंदन कुमार

चंडीगढ़: अदालत में दाखिल एक अवमानना याचिका पर एसएसपी को यह नोटिस जारी किया गया है। खुद को देवी का अवतार बताने वालीं सुखविंदर कौर उर्फ राधे मां के खिलाफ कार्रवाई के मामले में पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट ने कपूरथला के एसएसपी संदीप कुमार को नोटिस जारी किया है।

अदालत में दाखिल एक अवमानना याचिका पर एसएसपी को यह नोटिस जारी किया गया है। इस याचिका में आरोप लगाया गया था कि मुंबई में रहने वाली राधे मां के खिलाफ एसएसपी कार्रवाई नहीं शुरू कर रहे हैं। 

कपूरथला जिले के फगवाड़ा निवासी सुरिंदर मित्तल ने अदालत की अवमानना का आरोप लगाते हुए याचिका दाखिल की थी। इस अपील पर संज्ञान लेते हुए जस्टिस दया चौधरी ने नोटिस जारी किया है। अपनी याचिका में सुरिंदर ने कहा था कि एसएसपी ने जान-बूझकर पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट के 15 दिसंबर, 2015 के आदेश की अवमानना की है, लिहाजा उनके खिलाफ अवमानना की प्रक्रिया शुरू की जाए।

Read this also…

अखिलेश की लखनऊ मेट्रो को राजनाथ ने पूर्व प्रधानमंत्री वाजपेयी को किया समर्पित

याचिकाकर्ता के वकील ने हाई कोर्ट को बताया कि राधे मां ने खुद को देवी का अवतार बताते हुए उनके मुवक्किल की धार्मिक भावनाओं को आहत किया था। दिसंबर 2015 में राधे मां के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के लिए कपूरथला पुलिस से शिकायत की गई थी। याचिकाकर्ता के मुताबिक उनकी शिकायत में लगाए गए आरोप संज्ञेय अपराध की श्रेणी में हैं, जिसमें पुलिस जांच या एफआईआर दर्ज करना जरूरी है। सुरिंदर मित्तल ने राधे मां के खिलाफ केस दर्ज करने के लिए हाई कोर्ट में याचिका दाखिल की थी।

हाई कोर्ट ने 15 दिसंबर, 2015 के अपने आदेश में कहा, ‘विवाद की तह तक जाए बगैर यह जरूरी है कि संबंधित अथॉरिटी पता लगाए कि क्या इस मामले में कोई संज्ञेय अपराध हुआ है। इस याचिका के निपटारे के लिए कपूरथला के एसएसपी को निर्देश दिया जाता है कि वह शिकायतकर्ता के आरोपों की सच्चाई का पता लगाएं और यह भी जांच की जाए कि याचिका में लगाए गए आरोपों के तहत कोई संज्ञेय अपराध बनता है या नहीं।’

अपनी याचिका में सुरिंदर मित्तल ने दलील दी है कि इस आदेश के बावजूद एसएसपी ने उनकी शिकायत पर अब तक कोई फैसला नहीं लिया है, लिहाजा उनके खिलाफ अदालत की अवमानना के तहत कार्रवाई होनी चाहिए।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।