जनमंच असर: चेता प्रशासन, पाराशरी नदी के ऊपर ग्रामीणों द्वारा बाँधा गया तार हटाया, जल्दी बनवाया जायेगा रास्ता

Janmanch News
JanManch News
Share this news...

गंजबासोदा के वार्ड क्रमांक 14 के लोग नदी के ऊपर बाँधे गये तारों पर चलकर पार करते थे पाराशरी नदी, जनमंच न्यूज़ नें ग्रामीणों द्वारा इस तरह से लिए जा रहे जोखिम पर प्रशासन को खड़ा किया था कटघरे में…

Saurav Saxena
सौरव सक्सेना
विदिशा। जिले के गंजबासोदा के वार्ड क्रमांक 14 के लोग पाराशरी नदी के ऊपर दो तारों को ऊपर-नीचे बाँधकर उसे बाकायदा पुल की तरह इस्तमाल कर रहे थे। सूचना मिलने पर मौके पर सबसे पहले पहुँची जनमंच मध्य प्रदेश टीम नें पाया कि ग्रामीण नदी को पार करने के लिये किस कदर खतरा मोल ले रहे थे। एक तार ऊपर बांधा गया था, उसके ठीक पाँच फुट नीचे दूसरा तार बांधा गया था। जनमंच टीम नें देखा कि ग्रामीण अपने बच्चों को पीठ पर लटकाकर नीचे वाले तार पर चलकर नदी पार कर रहे थे, ऊपर वाला तार को दोनो हाथों से पकड़कर संतुलन बनाने के लिये काम आता था। नदी पार करने के दौरान जरा सा ध्यान भंग हुआ या संतुलन बिगड़ा तो दुर्घटना तय थी।Video that Leaves Impact…

जनमंच टीम नें ग्रामीणों से बात किया तो पता चला कि दूसरा रास्ता जंगली क्षेत्र से होकर गुजरता है जो निहायत ही ऊबड़-खाबड़ और बारिश में कीचड़-पानी से भरा रहता है और तकरीबन 9-10 किमी लंबा है, ऐसे में अपनी जान की कीमत पर ग्रामीणों नें दो तारों को नदी के ऊपर बाँध लिया और रोजमर्रा के काम के लिये उसके ऊपर से चलकर आने-जाने लगे।

जनमंच न्यूज़ नें इस खबर को प्रमुखता से दिखाया। जिसका बड़ा असर यह हुआ कि तहसीलदार दिलीप कुमार जडिया मौके पर पहुंचे और उन्होंने यह मौत का रास्ता बंद करा दिया। उन्होने नदी के ऊपर बांधे बिजली के तारों को निकलवाकर ग्रामीणों को मीडिया के समक्ष आश्वासन दिया कि वो वैकल्पिक रास्ता बना कर देंगे। जिसका ग्रामीणों के साथ-साथ हमारी टीम भी इंतज़ार करेगी, और यदि यह कागज़ी वादा साबित हुआ तो जिम्मेदारों को जवाब देना मुश्किल हो जायेगा।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।