नाबालिक के साथ सामूहिक दुष्कर्म फिर जिंदा जलाया, मौत

fire
Janmanchnews.com
Share this news...
Saurav Kumar
सौरभ कुमार

रांची: झारखंड में फिर से दिल दहला देने वाली घटना हुई है। चतरा जिला के प्रतापपुर प्रखंड के हुमाजाँग मे गुरुवार देर रात में तीन मुस्लिम युवकों ने एक 15 वर्षीय नाबालिक आरती कुमारी  के साथ बारी-बारी से बलात्कार कर मिट्टी तेल डाल कर नाबालिक को जिंदा जला दिया।

मृतक आरती कुमारी के पिता नन्दलाल मिस्त्री ने बताया कि उसकी बेटी गुरूवार रात 8 बजे शौच के लिए घर के पीछे बारी में गई थी, वहां पहले से घात लगाए बैठे गांव के सद्दाम, ईशरार और साहिद आलम ने मेरी बेटी आरती के साथ बलात्कार किया जब लोगों ने देख लिया तो किरासन तेल डाल कर उसके शरीर में आग लगा दिया। जिससे अस्पताल में मौत हो गयी।

गांव के ही है आरोपी…

सभी ने यह देखा कि आरती के साथ गांव के ही सद्दाम आलम, ईशरार आलम और साहिद आलम आपत्तिजनक स्थिति में देखा। बलात्कारियों ने गांव के कुछ लोग को देखा तो हडबर में लड़की को लेकर भाग गये, कुछ ही पल में लड़की भागी-भागी घर में आयी। उसका शरीर में आग लगी हुई थी।

लड़की के पिता नन्दलाल मिस्त्री ने बताया कि अपनी बेटी की ऐसीहालत देख कर मैने पानी से बुझाने का प्रयास किया लेकिन बेटी छटपटाहट में बतायी कि सद्दाम, ईशरार और साहिद ने मेरे साथ जबरदस्ती गलत काम करने के बाद मिट्टी तेल डालकर आग लगा कर भाग गए।

एसडीपीओ पहुंचें गांव घटना की हासिल की जानकारी, भेजा रानीगंज अस्पताल

घटना की जानकारी एसपी अखिलेश वी वारियर को जैसे हुई, उन्होंने एसडीपीओ ज्ञान रंजन को जाने का निर्देश घटना स्थल पर जाकर त्वरित कार्वाई करे। एसडीपीओ ज्ञान रंजन के नेतृत्व में इंस्पेक्टर मदन पासवान व प्रतापपुर के तत्कालीन थाना प्रभारी अनेश्वर सिंह और ने अपने दल बल के साथ घटना स्थल पर पहुंच कर घटना की जानकारी लेकर आरती कुमारी को बेहतर ईलाज के लिए रानीगंज भेज दिया। जहां डॉक्टरों ने मृत घोसित कर दिया।

बलात्कारियों को रात में छापेमारी कर सद्दाम और ईशरार आलम को गिरफ्तार कर लिया। एक साहिद आलम भागने में कामयाब रहा।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।