road

जर्जर सड़क की स्थिति ने खोली पीडब्ल्यूडी के ठेकेदारों की पोल

18
Shubham Tiwadi

शुभम तिवाड़ी

करौली। करीब डेढ़ करोड़ की लागत से पीडब्ल्यूडी ने बीते दो माह पूर्व केशव स्कूल से दुघाटी, अटक, नीमन से पुरा तक सड़क का निर्माण किया है। यह सड़क सीजन की पहली बारिश भी नही झेल पाई। पीडब्ल्यूडी के ठेकेदारों द्वारा इस सड़क का निर्माण कितनी गुणवत्ता से किया है। यह सड़क की स्थिति देखकर अंदाजा लगाया जा सकता है।

केशव स्कूल से लेकर दुघाटी से नीमन से  पुरा तक बनी सड़क का डामरीकरण किया गया है। यह सड़क तीन भागों में लगभग अनुमानित राशि डेढ़ करोड़ से सड़क बनाई गई। इस सड़क के बीच मे कई जगह डामर उखड़ गए है ओर सड़क से गिट्टी बाहर निकल आयी है। सड़क पर कई जगह गड्ढे पड़ गए है। जिससे आने जाने वाले राहगीरों को भारी समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है।

सड़क के आसपास रहने वाले ग्रामीणों का कहना है कि सड़क का निर्माण बारिश की शुरुआत होने से पूर्व कराया था। जिस सरकार का करोड़ो रूपये का धन खर्च हुआ। लेकिन ठेकेदारों द्वारा गुणवत्तापूर्ण कार्य नही करने की वजह से सड़क की हालत खराब हो चुकी है। सड़क में बड़े बड़े गड्ढे पड़ गए है। सड़क निर्माण के समय कोई भी उच्च अधिकारी सड़क का समय  पर निरीक्षण के लिए नही आया।

जिससे सड़क में घटिया सामग्री का इस्तेमाल हुआ। सड़क सीजन की पहली बारिश नही झेल पाई। जिससे सड़क मार्ग पूरी तरह खराब हो चुका है। डामर उखड़ जाने से कई जगह गड्ढे होने से  कीचड़ व पानी के चलते सड़क पर चलना खतरे से खाली नही है। ऐसे में वाहन तो क्या पैदल चलना भी परेशानी का सबक बना हुआ ही।

जबकि, ये 14 किलोमीटर की सड़क कई गांवों को मुख्य मार्ग से जोड़ती है। लेकिन सड़क हालात दो माह में खराब होने से ग्रामीण परेशान है। पीडब्लूडी अधिशासी अभियंता जयलाल मीना ने बताया कि अभी सड़क पर डामरीकरण किया है। अगर इसमे कही से कोई रोड में खराबी आयी है तो उसे ठीक किया जाएगा। इसकी जांच कराकर ठेकेदार द्वारा को पेच वर्क कार्य कराया जाएगा।