kodarma police

कोडरमा: साइबर अपराधी गिरफ्तार, चार एटीएम कार्ड बरामद

236
Mukesh Kumar Goswami

मुकेश कुमार गोस्वामी की रिपोर्ट,

कोडरमा। पुलिस ने साइबर क्राइम करने वाले अपराधी मुरारी कुमार पांडे को गिरफ्तार करने में सफलता पाई है। इस संबंध में एसपी एम तमिल वाणन ने शनिवार को अपने कार्यालय कक्ष में प्रेसवार्ता कर जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि 13 सितंबर की शाम अभियुक्त मुरारी कुमार पांडेय अपने दो साथियों छोटू कुमार एवं अनुज पासवान के साथ वैगन आर कार जिसका नंबर जेएच01 सीसी 0320 से गिरिडीह से पिपचो बाजार, थाना जयनगर में स्थित इंटिचा कंपनी के एटीएम मशीन के पास गाड़ी खड़ा करके, तीनों अभियुक्त एटीएम के अगल-बगल का मुयायना करके एटीएम के पास पैसा निकालने वालों के लगे कतार में लगकर एटीएम से पैसा निकाल रहे व्यक्ति गुलाम मुस्तफा का एटीएम छीन लिया एवं उनके पॉकेट में पूर्व से रखे 48 हजार रुपये जबरदस्ती निकाल लिया और भागने लगे।

गुलाम मुस्तफा द्वारा हल्ला करने पर आसपास के लोगों ने दौड़कर अभियुक्त मुरारी कुमार पांडे को पकड़ लिया, अन्य दोनों अभियुक्त वैगन कार लेकर भागने में सफल रहे। पुलिस ने मुरारी कुमार पांडे से जांच के क्रम में एक एटीएम कार्डक्लोनिंग मशीन, चार विभिन्न बैंक के एटीएम कार्ड, वैगन कार का रजिस्ट्रेशन कार्ड आदि बरामद किया हैं।

पुलिस ने पूछताछ की तो मुरारी ने बताया कि यह और इनके दोनों साथी मिलकर पिछले 2 वर्षों से एटीएम कार्ड क्लोनिंग मशीन से क्लोनिंग करते आ रहे हैं। वर्ष 2017 में भी अभियुक्त मुरारी कुमार पांडे, थाना राजधनवार, जिला गिरीडीह को जेल भेजा जा चुका है।

एसपी ने बताया कि अभियुक्तों की गिरफ्तारी एवं घटना में प्रयुक्त वाहन की बरामदगी के लिए विशेष छापामारी दल का गठन किया गया, छापामारी दल द्वारा घटना में प्रयुक्त वैगन कार को चैवार, थाना टनकुप्पा, जिला गया से बरामद किया गया है। गिरफ्तार अपराधी मुरारी कुमार पांडे, पिता विजय पांडे, साकिन चौवार, थाना टनकुप्पा, जिला गया, बिहार का रहने वाला है।

इसके विरुद्ध राजधनवार थाना में कांड संख्या 380/17 दर्ज है। एसपी ने बताया कि छापामारी दल में पुलिस अवर निरीक्षक रवि किशोर प्रसाद, थाना प्रभारी जयनगर, जाफर सिद्धकी, सहायक अवर निरीक्षक उमेश यादव और तकनीकी शाखा टीम की भूमिका उल्लेखनीय है।