आज के युवाओं की अनोखी शर्त- विवाह हेतु वधु फेसबुक-वाट्सएप की लत वाली न हो

marriage
Janmanchnews.com
Share this news...
Pankaj Pandey
पंकज पाण्डेय

कोलकाता। समय के साथ-साथ हर क्षेत्र में परिवर्तन हो रहा है। आर्थिक, राजनीतिक, चिकित्सा, शिक्षा सहित सामाजिक क्षेत्र में भी परिवर्तन दिख रहा है  मगर आज जिस परिवर्तन की बात सामने आई है वह बेहद दिलचस्प और चौकाने वाला है। जी हाँ…लाजमी है। नए ट्रेंड के अनुसार अब विवाह के लिए वधु की तलाश करते समय एक नई शर्त रखी जा रही है- लड़की को सोशल मीडिया यानी फेसबुक-वाट्सएप की लत नहीं होनी चाहिए।

कभी शादी के लिए घरेलू कार्य में दक्ष कन्या की जरूरत वाले समाज में बदलाव के बाद पढ़ी-लिखी से गोरी, स्लिम के बाद नौकरीपेशा को प्राथमिकता दी जाने लगी थी। मगर आज शादी के मामले में लड़के और उसके परिवार वाले फूंक-फूंक कर कदम रख रहे हैं। दाम्पत्य जीवन में आ रहे कड़वाहट, अलगाव बिखड़ते और टूटते रिश्तों ने आज के युवाओं को एक ऐसी दुल्हन की तलाश के लिए मजबूर कर दिया है। जिसके पास घरेलू काम के बाद पति और बच्चों के लिए समय हो न की परिवार की उपेक्षा कर फेसबुक-वाट्सएप की लत वाली।

पश्चिम बंगाल में शादी के लिए विज्ञापनों के मामले में यह नया ट्रेंड है, जो लगातार बढ़ता ही जा रहा है। पश्चिम बंगाल में केंद्र सरकार की नौकरी कर रहा एक युवक शादी के लिए तैयारी कर रहा है। अपनी होने वाली पत्नी के लिए उसकी कुछ अधिक मांगें नहीं हैं, उसे अपनी पत्नी की उम्र 18 से 22 वर्ष के बीच चाहिए और 12वीं तक की पढ़ाई काफी है, लेकिन जो सबसे प्रमुख शर्त है वह यह है कि लड़की को सोशल मीडिया यानी फेसबुक-वाट्सएप की लत नहीं होनी चाहिए।

सोशल मीडिया की लत के मामले में भारत पिछले साल जुलाई तक टॉप पर बना हुआ था। देश में फेसबुक चलाने वाले 24.1 करो़ड़ लोग हैं तो वहीं वाट्सएप का इस्तेमाल 20 करोड़ लोग करते हैं।

इस तरह के नए चलन के जोर पकड़ने को लेकर सोशल साइंस विशेषज्ञ प्रशांत राय का कहना है कि जिसने भी शादी के लिए ऐसा विज्ञापन दिया है, निश्चित ही उनका कोई सटीक तर्क होगा। मगर एक बात है कि उस विज्ञापन की आड़ में एक स्पष्ट संकेत है कि शादी के बाद भी उनकी पत्नी का फेसबुक-वाट्सएप के माध्यम से अन्य किसी के साथ सोशल नेटवर्किग साइट पर करीबी संपर्क हो, यह उन्हें पसंद नहीं है।

राय के मुताबिक, संभवत: दांपत्य में इस वजह से किसी तरह की गलतफहमी पैदा हो सकती है और सुखी शादीशुदा जिंदगी टूट भी सकती है। यही वजह है कि वर ने विज्ञापन में इन बातों को शामिल किया है। इसके पीछे संदेह भी हो सकता है, क्योंकि कई लोग शक्की स्वभाव के होते हैं।

वहीं इस सन्दर्भ में विज्ञापन देने वाले एक वर ने नाम नहीं छापने के शर्त पर कहा- ‘मैं खुशहाल दांपत्य जीवन के लिए शादी करना चाहता हूं। हम दोनों के बीच फेसबुक व वाट्सएप दीवार नहीं बने। देखा जा रहा है कि घरेलू महिलाएं सोशल मीडिया पर इतनी व्यस्त हो जाती हैं कि वह पति या अन्य किसी की बातों पर ध्यान ही नहीं देती हैं।

यही नहीं आए दिन खबरें आती हैं कि वाट्सएप व फेसबुक के माध्यम से अमुक अपराध हुआ। फेसबुक व वाट्सएप पर बुरे प्रस्ताव भी दिए जाते हैं।’

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।