ekadsi yatra

झूलनी एकादशी यात्रा आज भी अपनी परंपरागत तरीके से ही है निकलती

26
Shubham Tiwadi

शुभम तिवाड़ी

करौली। शहर स्थित केशव देव मंदिर से निकलने वाली जलझूलनी एकादशी यात्रा आज भी अपनी परंपरागत तरीके से निकलती है। इस मौके पर विशाल मेले का आयोजन भी किया जाता है। मेले में आसपास के क्षेत्र से रंग बिरंगे परिधान में सैकड़ों लोग मौजूद रहते है। जलझूलनी एकादशी को डीजे की धुनों पर नाचते हुए शहर में यात्रा निकालते हुए चकई हनुमान मंदिर पर पहुंचते है।

केशव देव मंदिर के महंत लोहरे लाल लवानिया ने बताया कि एकादशी पर मंदिरों में ठाकुरजी का अभिषेक कर नवीन पोशाक धारण कराई गई। फिर उन्हें पालकी में विराजमान कर शाम को डोल यात्राएं निकाली व जलविहार कराया। इस दौरान बच्चों व महिलाओं ने डोल के नीचे से निकलकर सुखद जीवन की कामना की जाती है।

इसके अलावा मालपुरा कस्बे में नैना देवी मंदिर पर गणेश महोत्सव का आयोजन चल रहा है। जिसमे मथुरा वृन्दावन से आये कलाकारों द्वारा रंगा रंग प्रस्तुति देकर लोगो का मन भक्तिमय हो रहा है।

इस मौके पर कार्यक्रम समिति के अभमन्यु कौसिक(कल्ली)जोहनी पांचाल,मनीष पराशर,राजू तमोली, बॉबी तमोली, सीताराम मास्टर, अशोक तमोली, जमना तमोली, विजेन्द्र लवानिया, राहुल तमोली, राधेश्याम कौशिक, महेश तमोली आदि लोग मौजुद रहे।