विपक्ष विरोध की राजनीति छोड़े और केन्द्र की इन पहलों का स्वागत करें: नंदकिशोर

Nand Kishore Yadav
File Photo: Nand Kishore Yadav
Share this news...

रेलवे में 1.10 लाख की नौकरी दुनिया में सबसे बड़ा भर्ती अभियान ‘सौभाग्य योजना’ बिहार सहित छह राज्यों के लिये 47 हजार पद…

पटना। बिहार के पथ निर्माण मंत्री श्री नंदकिशोर यादव ने कहा है कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी की घाषोणा के अनुरूप देश में राजेगार के अवसर में निरतंर वृद्धि हो रही है। सिर्फ इसी साल रोजगार के खुले दरवाजे में दो लाख से अधिक युवक-युवतियों को राजेगार का अवसर मिलेगा। जिसमें बिहार के भी हजारों लोग लाभान्वित होंगे।

श्री यादव ने आज यहां कहा कि कांग्रेसनीत यूपीए के शासनकाल में किसी भी एक वर्ष में इतनी बड़ी संख्या में युवा वर्ग को नौकरी का अवसर नहीं दिया गया था। रेलवे में 1.10 लाख लोगों को नौकरी दुनिया में सबसे बड़ा भर्ती अभियान है। अन्य क्षेत्रों में भी इस वर्ष नौकरी देने की प्रक्रिया चल रही है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का यह कथन कि- आज 80 करोड़ भारतीय 35 वर्ष से कम आयु के हैं। उनकी आकांक्षाएं, ऊर्जा, उद्यम और कौषल भारत के आर्थिक उन्नति की ताकत होंगे, को केन्द्र और बिहार की सरकार ने संकल्प के रूप में अंगीकार कर रोजगार के नये-नये अवसर को सृजित करने में जुटी है।

श्री यादव ने कहा कि देश के हर घर को रौशन करने के लिये चलाई जा रही सौभाग्य योजना में ग्रामीण युवकों के लिये राजेगार के द्वार खुले हैं। इसके अंतर्गत 55,500 लाईन मैना और हेल्परों के लिये कौशल विकास के तहत युवकों को प्रशिक्षित किया जायेगा।

इस वर्ष घर-घर बिजली पहुंचानी है। जिसके लिये 47 हजार लाइन मैन और साढे़ आठ हजार तकनीकी हेल्परों की जरूरत पडे़गी। बिहार सहित झारखंड, यूपी, मध्य प्रदेश, उड़ीसा और असम में 47 हजार पद बनेगें। इसी प्रकार रोजगार को प्रोत्साहित करने के लिये उद्योग धंधों में नवनियुक्त श्रमिकों के भविष्य निधि कोष में नियोक्ता के कोष का 12 प्रतिशत अंशदान तीन साल तक भारत सरकार द्वारा देने की घोषणा रोजगार के अवसर को बढ़ावा देने की दिशा में केन्द्र सरकार की सार्थक पहल है।

इसलिए विपक्ष विरोध की राजनीति छोड़े और केन्द्र की इन पहलों का स्वागत करें अन्यथा वह दिन दूर नहीं जब युवा वर्ग संपूर्ण विपक्ष को अपनी नजरों से भी ओझल कर देगा, वाटे देने-दिलाने की बात तो दूर रही।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।