उत्तर प्रदेश में फैला धमकियों का कारोबार, विधायकों को धमकाने वाले के खाते में आठ लाख बिटक्वाइन पेमेंट

pankaj singh, rajesh tripathi, janmejay singh
File Photo: विधायक पंकज सिंह, पूर्व मंत्री राजेश त्रिपाठी व जनमेजय सिंह
Share this news...
Priyesh Kumar "Prince"
प्रियेश कुमार “प्रिंस”

लखनऊ। प्रदेश के भाजपा विधायकों को वाट्सएप मैसेज के जरिए धमकाने के प्रकरण में जांच एजेंसियों के सामने चौंकाने वाला तथ्य आया है। विधायकों को भेजे गए मैसेज में जिस ई-अकाउंट में उन्हें रंगदारी की रकम जमा कराए जाने की धमकी दी गई थी, गत दिनों उसी अकाउंट में बिटक्वाइन के जरिए करीब आठ लाख रुपये भेजे गए हैं। हालांकि अब तक यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि यह रकम किसने व किस खाते के जरिए भेजी। हालांकि जांच से जुड़े अधिकारी इसे लेकर चुप्पी साधे हैं।

भाजपा विधायकों सहित अन्य प्रतिष्ठित लोगों को वाट्सएप मैसेज व कॉल के जरिए धमकी दिए जाने का सिलसिला अब भी जारी है। उल्लेखनीय है कि मई माह में अलग-अलग तारीखों में विधायकों के वाट्सएप नंबर पर धमकी भरे संदेश भेजे जा रहे हैं।

सूत्रों का कहना है कि इसी बीच धमकी देने वाले आरोपितों के अकाउंट में करीब आठ लाख रुपये बिटक्वाइन के रूप में भेजे गए हैं। इस रकम को आरोपितों ने अलग-अलग खातों में ट्रांसफर किया है। यह रकम अलग-अलग तारीखों में ट्रांसफर की गई है। बताया गया कि चार मई की शाम करीब 6:45 बजे से 18 मई की सुबह चार बजे के बीच छह ट्रांजेक्शन में यह रकम अलग-अलग ई-वॉलेट में ट्रांसफर की गई। दो, तीन, चार व 18 मई को एक-एक व 17 मई को दो ट्रांजेक्शन हुए हैं। ऐसे में सबसे बड़ा सवाल यही उठ रहा है कि आखिर लाखों रुपये का यह ट्रांजेक्शन किसने व कहां से किया है। जांच एजेंसियां इसकी पड़ताल में जुट गई हैं। दूसरी ओर धमकी देने वालों को अब तक चिह्नित नहीं किया जा सका है। बताया गया कि जिन देशों के प्रॉक्सी आइपी एड्रेस इस्तेमाल किए गए हैं, उनमें पाकिस्तान भी है। जांच एजेंसियों ने पाकिस्तान से भी तकनीकी सूचनाएं साझा करने के लिए संपर्क किया है।

हर देश की मुद्रा में बिट-क्वाइन के अलग दाम…

ई-ट्रांजेक्शन के दौरान कई पेमेंट गेटवे पर बिट क्वॉइन का ऑपशन आता है। यह करेंसी किसी देश में नहीं चलती है लेकिन, साइबर अपराधी इसका प्रयोग टोकन के तौर पर करते हैं। हर देश की मुद्रा के अनुरूप बिट क्वॉइन के दाम घटते-बढ़ते भी रहते हैं। पेमेंट गेटवे पर विभिन्न देशों की मुद्रा में एक बिट क्वॉइन का मौजूदा दाम भी दर्शाता है।

विधायक पंकज सिंह, पूर्व मंत्री राजेश त्रिपाठी व जनमेजय सिंह को भी मिली धमकी…

भाजपा विधायकों व मंत्रियों से रंगदारी मांगे जाने के प्रकरण में नोएडा के भाजपा विधायक पंकज सिंह का नाम भी जुड़ गया है। पंकज सिंह केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह  के पुत्र हैं। पंकज सिंह को भी वाट्सएप मैसेज के जरिए जान से मारने की धमकी दी गई। उनसे दस लाख रुपये की रंगदारी भी मांगी गई। धमकी अली बुदेश के नाम से दी गई है।

उन्होंने नोएडा पुलिस व शासन को इसकी जानकारी दी है। विधायक पंकज सिंह  ने बताया कि उन्हें 22 मई की सुबह धमकी भरा मैसेज भेजा गया। इसकी जानकारी उन्होंने जिला प्रशासन व पुलिस के अधिकारियों को दे दी थी। पंकज सिंह ने कहा कि यह शरारत है और उन्हें जांच एजेंसियों पर पूरा भरोसा है।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।