हरिजन छात्रावास

दलित छात्रावास पर दबंगों का अवैध कब्जा

15
Birju Thakur

बिरजू ठाकुर

मोतीहारी। मधुबन मे एकलौता छात्रावास है जो कुछ वर्ष पहले छात्रों ने छात्रावास मे रह कर अच्छी खासी पढ़ाई करते थे। अब उस छात्रावास मे निजी लोगों को द्वारा जलावन, जनरेटर अन्य समान रखने का सुविधा मिल रहा है। मधुबन प्रखंड के उच्च विधालय मधुबन मे छात्रावास मे बच्चे रहने के बदले वहां के कुछ ग्रामीणों के द्वारा अपने निजी समान रख कर अवैध कब्जा जमाये रखे हुए है। उच्च विधालय के प्रभारी प्रधानाचार्य अक्लांक अहमद के द्वारा बताया गया है कि छात्रावास मे बाहरी छात्र के नामांकन नही है एवं भवन जर्जर इस्थिति है। भवन अवैध कब्जा मे है।

भवन मे ताला तोड़ कर जलावन, जनरेटर, अन्य समान रख कर अवैध कब्जा जमाया गया है और छात्रावास मे रखे हुए कुछ सरकारी टेबूल, बेंच अन्य समान ताला तोड़ कर चोरी कर लिया गया है। यहां के कुछ जनप्रतिनिधियों को बताया गया है। लेकिन अभी तक कोई पहल नही हो सका है। जब सरकारी छात्रावास पर अवैध कब्जा है और समान चोरी भी हो गया, लेकिन कही पर प्रधानाध्यापक के द्वारा लिखित शिकायत नही किया गया। यह तो उच्च स्तरीय जांच का विषय है और जांच में ही सच्चाई सामने आएगा।

लेकिन कैसे मिलेगा दलित छात्रों का सुविधा। दलित छात्रों का नामांकन नौवीं और दशवीं मे 125 छात्र है फिर भी दलित छात्रों को छात्रावास के सुविधा नही मिल पाना, सरकार के शिक्षा सुधार एवं छात्रावास के पोल खोल रख दिया है। इन सभी बिन्दुओं पर प्रधानाध्यापक अहमद हुसैन से फोन पर बात करने पर बताया गया है। भवन के इस्थिति जर्जर है बगल के कुछ ग्रामीणों व नाइट गार्ड के द्वारा अवैध कब्जा किया गया और छात्रावास के समान भी गायब हो चुका है। अवैध कब्जा जमाए हुए छात्रावास को जल्द ही खाली करा कर दलित छात्रों को सुविधा
दिलाया जाए।