Press Photographer

यदि आप पत्रकार हैं तो इलाहाबाद हाईकोर्ट का ये आदेश आपके लिये है

483

मीडियाकर्मीयों द्वारा महिलाओं की धार्मिक कारणों से नदी में स्नान करने की फोटोग्राफ़ी व वीडियोग्राफी पर हलाहाबाद हाईकोर्ट नें प्रतिबंध लगाया है…

Shabab Khan

शबाब ख़ान (वरिष्ठ पत्रकार)

 

 

 

 

 

 
इलाहाबाद: हाल ही में इलाहाबाद के संगम पर कुंभ मेले के दौरान एक अंग्रेज़ी अखबार के फोटोग्राफ़र के साथ वहां ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मीयों नें मारपीट की थी, मीडिया द्वारा मामले को मुख्यता से उठाये जाने के बाद उन पुलिसकर्मीयों को निलंबित कर दिया गया था लेकिन सूत्रानुसार आरोपी पुलिसकर्मीयों नें इस मामले में उच्चाधिकारियों को दिये अपने स्पष्टिकरण में कहा था कि प्रेस फोटोग्राफ़र मेले के दौरान संगम पर स्नान कर रही महिलाओं की फोटो शूट कर रहा था, हालांकि फोटोग्राफ़र के कैमरे से कोई आपत्तिजनक फोटो बरामद नही हुई थी नतीजतन पुलिसकर्मीयों को निलंबित होना पड़ा।

इस मामले के बाद कुंभ या गंगा घाट या दूसरी पवित्र नदियों के घाटों पर स्नान कर रही महिलाओं की प्रेस द्वारा फोटोग्राफ़ी पर इलाहाबाद हाईकोर्ट नें पूरी तरह से रोक लगा दिया है। अपने आदेश में हाईकोर्ट नें कहा है कि कोई भी प्रिंट मीडिया स्नान करती महिलाओं की फोटो ना छापे, साथ ही इलेक्ट्रानिक व वेब मीडिया को भी स्नान करती महिलाओं की फुटेज टेलीकास्ट न करने का निर्देश दिया है।

हाईकोर्ट ने फोटोग्राफी व वीडियोग्राफी पर रोक का कड़ाई से पालन करने का निर्देश दिया है। हाईकोर्ट नें राज्य सरकार को मीडिया द्वारा आदेश की अवहेलना करने पर नियमानुसार कड़ी कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।