स्कूल टीचर ने नर्सरी के छात्र की पीट-पीटकर ली जान

Janmanchnews
Janmanchnews.com
Share this news...
Krishan Chandra Tiwari
कृष्ण चन्द्र तिवारी
मोतिहारी। बिहार के मोतिहारी में शिक्षक की हैवानियत के कारण एक छह वर्षीय मासूम बच्चे की जान चली गई। शिक्षक के हैवानियत की कहानी मृत बच्चे के शरीर पर चोट के निशान के रूप में स्पष्ट दिखाई दे रही है।

यह पूरी घटना मोतिहारी के मुफ्फसिल थाना क्षेत्र के गोढ़वा स्थित डीपीएस स्कूल की है। जहां केसरिया थाना क्षेत्र के नंदकिशोर साह के दो पुत्र दीपक कुमार और सूरज कुमार स्कूल के हॉस्टल में रहकर पढ़ाई करते थे। 

दरअसल, नंदकिशोर बाहर रहकर पेंटिंग का काम करता है और उसने अपने ससुराल गोढ़वा के एक स्कूल के हॉस्टल में एक वर्ष पूर्व बड़े पुत्र दीपक को रखा था और तीन महीने पहले छोटे बेटा सूरज को हॉस्टल में पढ़ने के लिए रखा था। जो डीपीएस में नर्सरी में पढ़ता था।

इधर, चिकित्सकों का कहना है कि सूरज के मौत कारण शरीर पर लगे चोट है। वहीं, पुलिस का कहना है कि उसे छात्र की मौत की सूचना मिली है और उसके शरीर पर चोट के निशान है। पुलिस के अनुसार पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के असली कारण का पता चल सकता है।

वहीं, मृतक के परिजन का कहना था कि स्कूल द्वारा उन्हें बच्चे की तबियत खराब होने की सूचना देते हुए एक निजी क्लिनिक में इलाज चलने की बात कही गई। जहां परिजन के पहुंचने पर विद्यालय के सभी स्टाफ बच्चे के शव को छोड़कर भाग खड़े हुए। उसके बाद सूरज को लेकर परिजन सदर अस्पताल पहुंचे। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।