Shivraj chauhan

क्या मुख्यमंत्री की डिग्री भी प्रधानमंत्री की डिग्री की तरह फर्ज़ी है: भोपाली चावल

67
Sarvesh Tyagi

सर्वेश त्यागी

भोपाल। भोपाल के बरकतउल्लाह विश्वविद्यालय से दर्शनशास्त्र में गोल्ड मेडलिस्ट स्नातकोत्तर शिवराज सिंह चौहान इन दिनों उनके हिंदी ज्ञान पर ट्रोल हो रहे हैं।

ट्वीटर पर पब्लिक उनके ट्वीट्स को रिट्वीट करते हुए उनका मजाक बना रही है। दरअसल, पिछले कुछ दिनों में शिवराज सिंह ने अपने ट्विट्स में कुछ महत्वपूर्ण गलतियां कीं हैं। बस उसी को लेकर पब्लिक उन्हे ट्रोल कर रही है। लोग तो यहां तक ताने मार रहे हैं कि बरकतउल्लाह यूनिवर्सिटी की जांच करानी चाहिए। कहीं गोल्ड मेडल घोटाला तो नहीं हुआ, यहीं नहीं ट्विटर पर भोपाली चावल नाम से एक ट्विटर ने लिखा है कि मुख्यमंत्री की डिग्री भी प्रधानमंत्री की डिग्रियों की फर्जी है।

1 मई को उन्होंने एयरपोर्ट को “एरपोर्ट” लिख दिया

इसी दिन शिवराज सिंह ने ‘समझ’ की जगह ‘समज’ लिख दिया। उन्होंने राहुल गांधी पर तंज कसा था परंतु खुद ही ट्रोल हो गए।

इससे पहले एससी/एसटी एक्ट विवाद के समय उन्होंने एक ट्वीट में सुप्रीम कोर्ट को ‘सप्रीम कोर्ट’ लिख दिया था। बाद में सही करके दूसरा ट्वीट किया गया। मजेदार तो यह है कि शिवराज सिंह चौहान की विधानसभा बुधनी का 20 वर्षीय युवा अमन दुबे (@AmanDubey_) जो BA 1st year का छात्र है, अपने विधायक और मुख्यमंत्री की हिंदी की गलतियां निकाल रहा है। अब लोग शिवराज सिंह की वॉल तलाश रहे हैं। उसमें और गलतियां निकाल रहे हैं। कुल मिलाकर सोशल मीडिया पर शिवराज सिंह का भी ठीक वैसा ही मजाक बनाया जाने लगा है जैसा कि ‘आलू की फैक्ट्री’।