पद संभालते ही एक्शन में दिखे नए भाजपा प्रदेशाध्यक्ष, कांग्रेस पर कसा तंज

BJP
Janmanchnews.com
Share this news...
Sarvesh Tyagi
सर्वेश त्यागी

भोपाल। पद संभालते ही पहले दिन भारतीय जनता पार्टी के नवनियुक्त प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह पूरी ताकत और पूरी क्षमता के साथ चुनावी मैदान में उतरने की बात कहते नजर आए।

पद ग्रहण करने के बाद राकेश सिंह मीडिया से रूबरू हुए और पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए आने वाले चुनावों के लिए बिगुल भी फूंक दिया। राकेश सिंह ने कार्यकर्ताओं से चुनावी मैदान में पूरी तैयारी के साथ तुरंत उतरने का आग्रह करते हुए चुनाव प्रबंधन समिति का भी ऐलान कर दिया। इसके साथ ही उन्होंने कांग्रेस पर तंज कसते हुए कहा कि दूसरी पार्टियों की तरह भाजपा में कोई भी पद स्थायी नहीं होता।

आगामी विधानसभा चुनाव 2018 के लिए ये है भाजपा की चुनाव प्रबंधन समिति-

संयोजक- नरेन्द्र सिंह तोमर
सह संयोजक- नरोत्तम मिश्रा एवं लाल सिंह आर्य
सदस्य- थावरचंद गहलोत, प्रभात झा, कैलाश विजयवर्गीय, नंदकुमार सिंह चौहान, भूपेन्द्र सिंह, राजेन्द्र शुक्ला, प्रहलाद पटेल, माया सिंह
पदेन सदस्य- शिवराज सिंह चौहान, राकेश सिंह

नंदकुमार सिंह चौहान का नाम लेना भूले चुनाव प्रबंधन समिति का ऐलान करने के दौरान राकेश सिंह नंदकुमार सिंह चौहान का नाम लेना भूल गए। समिति का ऐलान करने के बाद जब एक पत्रकार ने उनसे पूछा कि इस समिति में नंदकुमार सिंह चौहान क्यों नहीं हैं, तब राकेश सिंह को अपनी भूल का एहसास हुआ और उन्होंने हंसते हुए कहा कि लिस्ट में नाम है, वह उसे पुकारना भूल गए। बाद में उन्होंने बताया कि लिस्ट में कैलाश विजयवर्गीय के बाद नंदकुमार सिंह का नाम था, लेकिन भूलवश वह उसे पुकारना भूल गए।

पहले दिन से ही एक्शन में नजर आए राकेश सिंह पत्रकारों को संबोधित करने के दौरान राकेश सिंह काफी आत्मविश्वास और दृढ़ता के साथ नज़र आए। इसके अलावा पद ग्रहण करते ही चुनाव प्रबंधन समिति का ऐलान करना ये साबित करता है कि राकेश सिंह चुनावी वर्ष को ध्यान में रखते हुए पूरी ऊर्जा के साथ काम करने के लिए तैयार हो चुके हैं।

अपने संबोधन के दौरान उन्होंने कहा कि भाजपा में कोई भी स्थायी रूप से किसी एक दायित्व पर नहीं रहता। अब तक नंदकुमार सिंह चौहान ईमानदारी और निष्ठा से इस दायित्व को निभा रहे थे, लेकिन उन्होंने आग्रह किया था कि संसदीय क्षेत्र में वापस लौटना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि यह कार्यकर्ता आधारित पार्टी है, इसलिए पदों के परिवर्तन के कारण काम में किसी तरह की कोई कठिनाई सामने नहीं आएगी।

2018 भी शिवराज के नेतृत्व में अपने संबोधन में राकेश सिंह ने ये भी स्पष्ट कर दिया कि इस बार भी शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में विधानसभा चुनाव लड़ा जाएगा। उन्होंने कहा कि विधानसभा हो या लोकसभा आगामी दोनों चुनावों के लिए हमारी कार्यसंरचना पूरी तरह तैयार है, साथ ही उन्होंने आगामी चुनावों में जीत हासिल करने का दावा भी किया। पार्टी के कार्यकर्ताओं से आग्रह करते हुए उन्होंने कहा कि अब कार्यकर्ता कमर कस लें। चुनावी बिगुल बज चुका है, इसलिए सभी कार्यकर्ता मैदान में उतर आएं।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।