अब किसान संगठन का सरकार के खिलाफ नगर बंद का आह्वान

32
Anil Upadhyay

अनिल उपाध्याय

देवास। किसान संगठन के बैनर तले किसानों का 4 दिन से लगातार पुलिस थाने के सामने धरना आंदोलन जारी है, रविवार को किसान संगठन ने आपातकालीन बैठक बुलाकर 19 मार्च सोमवार को नगर बंद कर आक्रोश रैली निकालकर SDM को ज्ञापन देने का ऐलान किया है।

देर शाम थाना प्रभारी तहजीब काजी ने किसान संगठन के धरना स्थल पर पहुंच कर उनसे चर्चा कि लेकिन किसान लोग अपनी मांगों पर अड़े रहे उनका कहना है कि उनके निर्धारित शेड्यूल अनुसार आंदोलन जारी रहेगा ।

उधर पुलिस प्रशासन ने किसान आंदोलन को देखते हुए पुलिस सुरक्षा को और बढ़ा दिया है ताकी आंदोलन के दौरान किसी आम नागरिक को किसी प्रकार की कोई परेशानी ना हो।

उल्लेखनीय है कि बीते 4 दिनों से किसान संघ के बैनर तले किसान लोग थाना परिसर के सामने विभिन्न मांगों के साथ ही ,पिडित किसान पर से धारा 308 हटाकर अपराध मुक्त करें, भावंतर बंद का न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीदी करें, ओलावृष्टि के रखवा कम करने का विरोध चने की खरीदी में 15 कुंटल से बढ़ाकर 30 कुंतल प्रति हेक्टर की जाए।

किसान सगठन के किशोर जार्ट एवं कपिल जाट ने जानकारी देते हुए बताया कि पिछले दिनों क्षेत्र में बोरवेल के गड्ढे में बच्चे के गिरने की घटना घटी , बच्चे को बबचा लिया गया हमारे लिए हर्ष का विषय है,  किंतु प्रशासन ने तानाशाही करते हुए निर्दोष किसान के ऊपर गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज कर दिया जो कि यह दर्शाता है कि आने वाले दिनों में भी किसान को किसी भी न किसी मुद्दे पर आरोपी बनाकर उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी इसका किसान संगठन विरोध करते हैं इसके साथ ही बिजली कंपनियां बिजली बिलों की वसूली मे किसानों की सामग्री जप्त कर रही है।

किसान संगठन विरोध करते हैं किसानों की मांगों को माना गया तो मजबूर होंगे होकर किसानों को उग्र से उग्र आंदोलन करना होग। साथ ही उसमे भाग लेने के लिए छेत्र के किसान उपस्थित रहेंगे विगत 4 दिनों से किसान क्रमिक भूख हड़ताल पर और धरने पर बैठे किसानो के बीच कल शाम एस.डी.एम रजक भी पहुचे थे,  जिसमे कई मांगो पर किसानों से चर्चा की और कई मांगों पर तुरंत सहमति भी बनी कल होने वाले महा किसान आंदोलन में कई मांगे और प्रस्ताव सरकार और प्रसाशन के सामने रखी जायेगी , हड़ताल पर विभिन्न किसान संघटनो के लोग विगत चार दिनों से क्रमिक हड़ताल और धरने पर बैठे हुए है जिनमे मदन भारी ,ओमप्रकाश पटेल ,केदार सिरोही ,घनश्यामपटेल, गोविन्द गोदारा ,कपिल दुकतावा, अनिल थोरी ,नीरज छाबा, राहुल चौधरी ,जीतेन्द्र चोयल, किशोर सेवल्या, गणेश बाता, अजीज खान ,महेश भींचर, अंकित यादव ,बंटी सोनी ,अनिल रमेशचंद्र पटेल आदि।