arrested

बड़े भाई ने दुष्कर्म किया, छोटा भाई धमका रहा था, पुलिस ने दोनों भाइयों को किया गिरफ्तार

82
Anil Upadhyay

अनिल उपाध्याय

देवास। 6 दिन पहले एक महिला से दुष्कर्म की घटना हुई थी इस मामले में पीड़िता को राजीनामे के लिए धमकाने वाले फरार आरोपी के छोटे भाई को  पुलिस ने गिरफ्तार किया है, पकड़े गए आरोपी के मोबाइल में अश्लील फिल्म भी पाई गई, पुलिस दोनों आरोपियों की संपत्ति कुर्की की कार्रवाई भी करेगी।

खातेगांव टीआई तहसील काजी के अनुसार नेमावर पुलिस थाना क्षेत्र के ग्राम विजयवाड़ा के श्रवण विश्नोई ने 27 अप्रैल को रात 1:30 बजे खेत पर बने टप्पल में दुष्कर्म की घटना की थी।

खातेगांव थाने पर संपर्क किया गया था इसकी विवेचना एस डी ओ पी कन्नौज शेर सिंह भूरिया द्वारा की जा रही थी , आरोपी के भाई राजू बिश्नोई द्वारा फरियादी महिला को राजीनामे के लिए धमकाया जा रहा था! साथ ही उसके ससुर -सास पर दबाव बनाकर गाड़ी में बैठाकर खातेगांव कोर्ट में लाया था।

इस बीच महिला ने अपने देवर के फोन से पति को फोन किया जो राजू के डर के कारण मजबूरन भाग गया था। उसे सारी बात बताई पति ने खातेगांव थाने पर फोन से जानकारी दी खातेगांव कोर्ट के आसपास पुलिस ने घेराबंदी  की  इससे आरोपी फरियादियों से जबरन हस्ताक्षर नहीं करवा पाया उसे ले जाकर गांव में छोड़ दिया एस डी ओ पी शेरसिह भरिया ने आरोपी राजू विश्नोई के खिलाफ केस दर्ज कर गिरफ्तार किया है।

आरोपी के मोबाइल में मिली अश्लील फिल्म आरोपी के मोबाइल में अश्लील फिल्म पाई गई। आरोपी राजू के प्रतिबंधात्मक कार्यवाही की जा रही है बड़े भाई फरार आरोपी विश्नोई की सरगर्मी से तलाश की जा रही है, साथ ही इनकी संपत्ति की जानकारी लेकर पुलिस द्वारा कुर्की की कार्रवाई कोर्ट में प्रस्तावित की जा रही है।

आरोपी को पकड़ने मै एस डी ओ पी शेर सिंह भूरिया के मार्गदर्शन में खातेगांव थाना प्रभारी तहजीव काजी ,सतवास थाना प्रभारी अमित सोनी ,व पुलिस स्टाफ की महत्वपूर्ण भूमिका रही खातेगांव थाने में कायमी कर असल में नेमावर थाने पर अपराध क्रमांक 84/18 धारा 376(1),506भा द वि 3(2)5 एससीएसटी एक्ट में अपराध कायम कर विवेचना में लेकर एसडीओपी कन्नौद शेरसिह भूरिया द्वारा की गई।

जबरन अपने खेतों में बेगार करवाने को मजबूर करने को लेकर अपराध क्रमांक 87 धारा 347,294,506B,190,365 आईपीसी धारा में प्रकरण दर्ज किया गया तथा आरोपी राजू विश्नोई को उक्त अपराध में दिनांक 3/5/2018 को गिरफ्तार किया गया गिरफ्तारी के समय आरोपी के पास एक एंड्रॉइड मोबाईल मिला जिसमे अश्लील फिल्मो का आदान प्रदान करना पाया जाने से अपराध क्रमांक 88/18 धारा 392 आईपीसी का प्रकरण पंजीबध्द कर विवेचना में लिया गया।