Rape

सोशल मीडिया पर झूठ बोल कर नाबालिक से दोस्ती, फिर उसे दो माह तक बन्दी बनाकर किया रेप

46
Anil Upadhyay

अनिल उपाध्याय

देवास। 4 मई को खातेगांव थाना में सूचना मिली कि एक युवती बस स्टेण्ड मे दुकानो के पीछे डरी हुई छिपी है !तथा रो रही है, सूचना पर त्वरित पुलिस थाना खातेगॉव से महिला उप0निरी0 सोनल सिसोदिया, म0 आर0 चेतना, म0 आर0 विनीता, म0 आर0 प्रिया को रवाना किया गया और डरी सहमी हुई बालिका को ढूंड कर बरामद किया गया।

घटना के संबंध मे पुलिस अधीक्षक देवास अंषुमानसिह द्वारा एसडीओपी कन्नौद शेरसिह भूरिया एवं टीआई तहजीब काजी थाना प्रभारी खातेगॉव को संवेदनषीलता से नाबालिग बालिका को व्यपहत कर बंधक बनाने वालो के विरुद्ध तत्परता से सख्त कार्यवाही के निर्देष दिये गये जिस पर पुलिस द्वारा बालिका जो काफी डरी हुई थी जिसे शांत करवाकर काउंसलिंग की गई तो जानकारी मिली कि बालिका की उम्र 16-17 साल की होकर थाना क्षेत्र से 400 कि0मी0 दूरी के शहर की रहने वाली है, जो पढने लिखने के साथ डांस व अन्य गतिविधियो में संलग्न रहती थी तथा मॉ मजदूरी कर उसकी दो बहनो का पालन पोषण कर रही थी।

बालिका को एंड्रायड फोन चलाने का शौक था उसके व्हाट्सएप पर आरोपी विमल द्वारा बालिका की डीपी की तारीफ कर बालिका को आकृष्ट करने हेतु प्रयत्न किया फिर चैटिंग करने लगा धीरे धीरे उसने बालिका की फोटो भी प्राप्त कर लिये और फिर उसको झूठ बताकर कि मैं इंदौर में नौकरी करता हूॅ और बहुत पहचान है तुम आ जाओ रानी बनाकर रखूंगा तब बालिका ने मना किया तो उसे धमकाया और बोला कि मैं तुम्हारे फोटो और चेटिंग सबको बता दूंगा तुम्हारी बदनामी करूंगा तो बालिका डर कर आरोपी के बताये स्थान पर दिनाक 27.02.18 को पहुच गई जहा पर आरोपी और उसके साथी गण द्वारा उसे लेने पहुच गये ओर सीहोर में कोई गॉव में रखा फिर इन लोगो ने जबरन उसकी शादी विमल से मंदिर में कर दी फिर विमल जब उसको अपने घर ले गया तब नाबालिक के फोन सीम सब तोड दी और उसे घर में बंद कर उसके साथ रोज गलत काम करने लगा और घर के सारे काम झाडू पोछा, रोटी बनाना, खेती के सारे काम जबरन कराने लगा जब वह अपने साथ शारिरीक संबंध बनाने से मना करती तो विमल अपने अन्य आरोपी साथी गण को बुलाता तो वह पटक पटक कर मारते और बंद कर देते जिससे बालिका बहुत डरी सहमी रहती थी।

दिनांक 04.05.18 विमल जब बालिका को लेकर अपने रिष्तेदार के यहा आया तो खातेगॉव बस स्टेण्ड पर भीड का लाभ उठाकर बालिका साहस कर भाग खडी हुई और दुकानो के पीछे छिप गई जिसे आरोपीगण ढूढने लगे थे देख किसी जागरूक नागरिक ने पुलिस को फोन कर दिया और पुलिस ने त्वरित कार्यवाही करते हुये बालिका को अपनी कस्टडी में लेकर सुरक्षा उपलब्ध करवाकर बालिका की रिपोर्ट पर अप0 क्र0 382/18 धारा 363, 366क, 368, 376(2)एन 323, 34 भा0द0वि0 5एल/6 पाक्सो एक्ट कायम कर विवेचना में लिया गया।

तथा बालिका की मॉ एवं भाई परिजन को ढुंड कर तलब कर उनके सुपुर्द किया गया विवेचना के दौरान आरोपी विमल पिता नारायण जाति बलाई नि0 औकारा द्वारा नाबालिक को व्हाट्सएप से बहला फुसलाने तथा उसके साथ बलात्कार करने के आरोप मे दिनांक 06.05.18 को गिरफ्तार किया गया साथ ही व्यपहृत नाबालिक को छिपाकर रखने में सहायता करने में बाकी आरोपियां सुरेषनी पति बबलु जाति गोंड 35 साल नि0 जयंती कालोनी मंडला हाल अरविंद कालोनी भोपाल थाना बाग मुगलिया को भी गिरफ्तार किया जाकर माननीय अपर सत्र न्यायाधीष श्री मनोज तिवारी की कोर्ट में पेष किया गया जहा से उन्हे जेल भेज दिया गया है। अन्य आरोपियो की तलाश् एवं विवेचना जारी है।