मुगलसराय

मुगलसराय का नाम बदलने को लेकर बीजेपी और लाल बहादुर शास्त्री न्यास में छिड़ी जंग

26

चुनाव पूर्व मुगलसराय का नाम लाल बहादुर शास्त्री के नाम पर रखनें का वादा किया था बीजेपी नें…

–सुरेश मौर्या

चंदौली: मुग़लसराय स्टेशन के नाम को बदलने की मांग को लेकर बीजेपी और लाल बहादुर शास्त्री सेवा न्यास के लोग आमने सामने आ गये हैं। एक तरफ बीजेपी नेताओं द्वारा मुगलसराय स्टेशन का पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर रखे जाने की मांग की जा रही है वहीं दूसरी तरफ लाल बहादुर शास्त्री सेवा न्यास के कार्यकर्ताओं द्वारा देश के पूर्व प्रधानमंत्री लाल बहादुर जी के नाम पर स्टेशन का नाम रखे जाने की मांग पर अड़े हैं।

आप को बता दें कि देश के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री का जन्म मुग़लसराय के सेंट्रल कालोनी में हुआ था यही नहीं लाल बहादुर शास्त्री जी मुग़लसराय के रेलवे स्कूल में पढ़े भी हैं। सेवा न्यास के लोगों का कहना है कि जब बीजेपी सांसद महेंद्र नाथ पाण्डेय जनपद के सांसद नहीं थे उसके पहले से ही स्टेशन का नाम लाल बहादुर शास्त्री के नाम पर रखने की मांग की जा रही है।

यही नहीं रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा को भी हमने स्टेशन का बदलने के संबंध में पत्रक दिया था उस वक्त उन्होंने हमें अस्वाशन भी दिया था। लेकिन यूपी में सरकार बनते ही वो लोग अपनी बातों से मुकर गए।

उन्होने कहा कि अगर मुगलसराय स्टेशन का नाम पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम पर पड़ा तो आने वाले समय मे इस शहर को हत्यारों के शहर के नाम से जाना जाएगा और हमारे शहर को हत्यारों का शहर कहा जाए ये हमे बिलकुल बर्दाश्त नहीं है।