अब मुस्लिम भी उतरे फिल्म पद्मावत के खिलाफ मैदान में, भंसाली का जलाया पुतला

मुस्लिम
Padmavat Controversy: Muslims join the Protest Bandwagon against Film Padmavat...
Share this news...

फिल्म पद्मावत में भारतीय सनातन धर्म की एक रानी के चरित्र पर उठाए गए सवाल से क्षुब्द है मुस्लिम समुदाय भी

Shabab Khan
शबाब ख़ान (वरिष्ठ पत्रकार)

 

 

 

 

 

बाराबंकी: सुप्रीम कोर्ट के आदेश और सीएम योगी आदित्यनाथ के पूरे यूपी में फिल्म रिलीज करनें के एलान के बाद पद्मावत को लेकर विरोध कम होनें के बजाए बढ़ता ही जा रहा है। करणी सेना, अखिल भारतीय क्षत्रीय महासभा के बाद अब मुस्लिम समुदाय भी इस फिल्म के विरोध में खड़ा नजर आ रहा है, जिससे संजय लीला भंसाली के सकंट बढ़ सकते हैं।

यह तो तय है कि 25 जनवरी, शुक्रवार को पूरे प्रदेश में फिल्म रिलीज होगी लेकिन उग्र और हिंसक प्रदर्शन से घबराकर यदि सिनेमाघरों नें फिल्म को दिखाये जाने से मनाकर दिया तो भंसाली की लुटिया डूबना तय है, इसके ठीक विपरीत यदि शासन नें प्रदर्शनकारियों पर काबू पा लिया तो फिल्म का विवादित होना ही उसकी सफलता की कुँजी बन जायेगी।

योगी की पद्मावत को लेकर प्रदर्शनकारियों को दी गई चेतावनी को दर-किनारे कर उत्तरप्रदेश में लोगों का गुस्सा फिल्म के प्रति शांत होने का नाम नहीं ले रहा है। इस कड़ी में मंगलवार को मुस्ल‍िम समुदाय के लोगों ने विरोध प्रदर्शन कर संजय लीला भंसाली का पुतला फूंका और मुर्दाबाद के नारे लगाए।

प्रदर्शनकारियों का कहना है कि फिल्म पद्मावत में भारतीय सनातन धर्म की एक रानी के चरित्र पर सवाल उठाए गए हैं। साथ इस फिल्म में भारत के गौरवशाली इतिहास के साथ छेड़छाड़ किया गया है, जिसे देश का कोई भी नागरिक बर्दाश्त नहीं कर सकता।

उनका कहना है कि पूरे बाराबंकी शहर में ये फिल्म रिलीज नहीं होने दी जाएगी चाहे इसके लिए जान भी देनी पड़ जाए। वहीं इस फिल्म में इतिहास गलत तरीके से पेश करनें को लेकर संजय लीला भंसाली की गिरफ़्तारी की मांग भी उठायी गयी।

पद्मावत फिल्म को लेकर पूरे देश में करणी सेना विरोध प्रदर्शन कर रही है। हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने फिल्म को रिलीज़ करने का आदेश सुनाया है। इस बीच फिल्म ‘पद्मावत’ पर देश भर में बैन लगाने की मांग को लेकर 16,000 महिलाओं ने पीएम नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखकर उनसे इच्छामृत्यू की इजाजत मांगी है।

बता दें सर्वोच्च न्यायालय मध्य प्रदेश और राजस्थान सरकार द्वारा विवादित फिल्म ‘पद्मावत’ की रिलीज पर प्रतिबंध लगाने की मांग के लिए दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए साफ कर चुका है कि पूरे देश में पद्मावत एक साथ रिलीज होगी। साथ ही कोर्ट ने फिल्म बैन से जुड़ी सभी याचिकाओं को खारिज कर दिया है।

मध्य प्रदेश सरकार ने सर्वोच्च न्यायालय में फिल्म ‘पद्मावत’ के संबंध में आज याचिका दायर की थी और साथ ही पूर्व के फैसले पर पुनर्विचार करने का अनुरोध किया था, जिसे पीठ नें ठुकरा दिया।

shabab@janmanchnews.com

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।