जनमंच विशेष: रॉकेट बम और रैंबों तीर का इस्तमाल कर रहे हैं नक्सली, गोबर में छिपा रहे हैं आईईडी

नक्सली
Naxalite's new self made weapons became lethal for forces...
Share this news...

सिक्युरिटी एजेंसियों का मानना है कि इन हथियारों और तरीकों से नक्सली कई गुना अधिक घातक हो गये है…

Shabab Khan
शबाब ख़ान (वरिष्ठ पत्रकार)

 

 

 

 

 

 

नई दिल्ली: सुरक्षा बलों पर हमला करने के लिए नक्सली और घातक हो गए हैं। अपनी मारक क्षमता को बढ़ाने के लिए माओवादियों के रैंबो तीर और रॉकेट बम जैसे देसी घातक हथियारों से लैस होने की खबर हैं। वाम उग्रवादियों की रणनीतिक चाल का अध्ययन करने वाली एक सरकारी रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई है। इसमें कहा गया है कि रैंबो तीर व रॉकेट बम से लैस होकर नक्सलियों ने अपने आइईडी शस्त्रागार में भारी बढ़ोतरी कर ली है।

आइईडी खतरे का अध्ययन करने वाली सुरक्षा बलों की संयुक्त कमान ने यह रिपोर्ट हाल ही में तैयार की है। रिपोर्ट के अनुसार, स्निफर डॉग को धोखा देने के लिए माओवादियों ने आइईडी को गोबर में छिपाने की नई रणनीति विकसित कर ली है। इसमें कहा गया है, ‘वर्ष 2017 की पहली तिमाही में आइईडी का पता लगाने की कोशिश में सुरक्षा बलों के कई स्निफर डॉग मारे गए। गोबर की दुर्गध से खोजी कुत्तों के तेज भौंकने के कारण हुए धमाके में इनकी जान चली गई।’

रिपोर्ट के मुताबिक, पिछले वर्ष इसी तरह के आइईडी धमाकों में सीआरपीएफ के ‘ओसामा हंटर्स’ नाम से मशहूर दो खूंखार स्निफर डॉग की झारखंड एवं छत्तीसगढ़ में मौत हो गई। इसके बाद मामले की गहराई से जांच कराई गई। इसमें पाया गया कि गोवर में आइईडी छिपाने की रणनीति के कारण ही ये धमाके हुए, जिनमें स्निफर डॉग की मौत हुई।

इसी रिपोर्ट में बताया गया है कि भाकपा (माओवादी) के कार्यकर्ता धमाकेदार रैंबो तीर से लैस हो गए हैं। इस तीर के नोक पर बारूद लगा होता है। इसके लक्ष्य से टकराने के बाद भयानक विस्फोट होता है। इससे चारो और तेज गर्मी और धुंध छा जाती है। नक्सली इसका फायदा उठाते हुए सुरक्षा बलों पर हमला कर देते हैं। उनके हथियार लूट लेते हैं। पिछले वर्ष 24 अप्रैल को छत्तीसगढ़ के सुकमा जिले में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले में नक्सलियों ने रैंबो तीर का इस्तेमाल किया था। इसमें सीआरपीएफ के 25 जवान शहीद हो गए थे और उनके हथियार लूट लिए गए। इसी रिपोर्ट में रॉकेट बम के इस्तेमाल की भी जानकारी दी गई है। इससे भयानक धमाका होता है और चारों ओर अफरातफरी मच जाती है।

-PTI

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।