हाई क्लास सेक्स रैकेट की सरगना कुख्यात सोनू पंजाबन गिरफ्तार

Sonu Punjaban
File Photo: Sonu Punjaban
Share this news...

नाबालिग लड़कियों की करती है तस्करी… दिल्ली, यूपी, हरियाणा, मुंबई तक फैला है पंजाबन का नेटवर्क

Shabab Khan
शबाब ख़ान (वरिष्ठ पत्रकार)

 

 

 

 

 

नई दिल्ली: हाई क्लास वेश्यावृत्ति रैकेट चलाने और नाबालिग लड़कियों की तस्करी के लिए कुख्यात, गीता अरोड़ा ऊर्फ सोनू पंजाबन, को दिल्ली पुलिस ने छः महीनेे तक ट्रेस करने के बाद गिरफ्तार कर लिया है।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया, “सोनू पंजाबन को शनिवार को गिरफ्तार कर लिया गया था, अपराध शाखा के साइबर सेल कार्यालय में एसीपी संदीप लांबा के नेतृत्व वाली टीम ने उससे लंबी पूछताछ की है।”

उसे एक गुप्त ठिकाने से गिरफ्तार कर लिया गया था, जिसकी सूचना एक 16 वर्षीय लड़की से प्राप्त हुई थी जिसे अगवा करके जबरदस्ती वेश्यावृत्ति कराई जाती थी।

“वर्ष 2009 में उसका अपहरण कर लिया गया था, जब वह 12 साल की थी। पीड़िता ने 2014 में खुद नजफगढ़ पुलिस थाने आकर सोनू पंजाबन और उसके साथियों के खिलाफ शिकायत की थी। जिसके बाद पुलिस ने सोनू पंजाबन को गिरफ़्तार कर लिया था,” अधिकारी ने बताया।

लेकिन कुख्यात सोनू पंजाबन के जेल से छूटने के बाद शिकायतकर्ता लड़की यह देखकर गायब हो गई कि पंजाबन को रिहाई मिल गयी हैं, और वह उसे नुकसान पहुँचा सकती है।

अधिकारी ने कहा, “पीड़ित तब से गायब हो गयी था। यह मामला जब एसीपी लांबा के पास पहुँचा तो उस लड़की की तलाश की गई और नवंबर में पीड़िता को खोज लिया गया,” पुलिस अधिकारी ने बताया।

16 वर्षीय पीड़िता ने दावा किया कि पंजाबन नें उसे अगवा करके “अनैतिक व्यवसाय” में धकेल दिया, जिसमें नाबालिग लड़कियों की तस्करी, उनकी खरीद-फरोख्त, बलात्कार और न मानने पर दलालों द्वारा यातनाएं देना शामिल है।” बता दें कि इस हाई क्लास सेक्स रकैट की सरगना का नेटवर्क दिल्ली, उत्तरप्रदेश, हरियाणा तक फैला है।

पंजाबन के रसूख की जानकारी भी मिली है, सूत्र बताते हैं कि कई नामचीन राजनेता, विधायक, मंत्री, सरकारी अधिकारी, क्रिमिन्लस् द्वारा पंजाबन की सर्विस ली जाती है, और परेशानी के समय पंजाबन को अपने इन संपर्कों से सहयोग मिलता है। इसी लिये दिल्ली पुलिस को उसे उसके गुप्त स्थान से गिरफ़्तार करने के लिए छह महीने तक उसे ट्रेस करना पड़ा।

जॉच में सहयोग करने की बात पंजाबन ने मान लिया है और अपना अपराध भी स्वीकार कर लिया है, हालांकि पूरी उम्मीद है कि वह कोर्ट में अपने बयान से मुकर जाएगी और खुद को बेगुनाह बताएगी। लेकिन 16 वर्षीय पीड़िता लड़की, जो उसके साथ पॉच सालों तक मजबूरन वेश्यावृति करती रही पंजाबन को अदालत से सज़ा दिलाने में मददगार साबित हो सकती है, उसकी गवाही सरगना महिला को उसके अंजाम तक पहुँचा सकती है।
पंजाबन के विरुद्ध विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया गया है जिसमें अपहारण, बलात्कार और पास्को एक्ट शामिल है।

बता दें कि सोनू पंजाबन पर मकोका, पास्को, हत्या और अन्य अपराधों के पॉच और मामले पहले ही चल रहे हैं।

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।