बीजेपी की सहयोगी भसपा ने मोदी के गढ़ बनारस में दी बगावत की चेतावनी

ओम प्रकाश राजभर
Om Prakash Rajbhar addressing a meeting in cutting memorial ground in Varanasi...
Share this news...

ओम प्रकाश राजभर योगी सरकार में मंत्री और भसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष है…

Shabab Khan
शबाब ख़ान (वरिष्ठ पत्रकार)

 

 

 

 

 

वाराणसी: मंत्री ओम प्रकाश राजभर ने यहां कटिंग मेमोरियल मैदान से योगी सरकार के खिलाफ ऐलानिया बगावती तेवर दिखाते हुए एक के बाद एक कई आरोप सरकार पर जड़ दिये। उन्‍होंने यहां तक कह दिया कि इस सरकार में भ्रष्‍टाचार और गरीबों पर जुल्‍मो-सितम बढ़ गया है। ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि अब आमने-सामने की लड़ाई होगी।

योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री और भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने आज वाराणसी में अपनी ताकत दिखाई। महाराजा सुहेलदेव जयंती के मौके पर आयोजित महारैली में ओमप्रकाश राजभर ने 2019 लोकसभा चुनाव एनडीए के साथ लड़ने की घोषणा तो की ही साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि अगर निकाय चुनाव की तर्ज पर सीटों का बंटवारा हुआ तो उनके लिए और भी विकल्प हैं।

राजभर योगी सरकार के प्रति काफी रोष में नजर आये। कासगंज में हुई हिंसा पर प्रदेश के कुछ अधिकारियों पर निशाना साधते हुए कहा कि अभी कुछ अधिकारी सुधरने का नाम नहीं ले रहे हैं जिसकी वजह से ऐसी घटनाएं सामने आ रही हैं। वही मंच से संबोधित करते हुए ओम प्रकाश राजभर ने सीएम योगी और पीएम मोदी पर जमकर जुबानी हमला किया।

ओम प्रकाश राजभर ने अपने कार्यक्रताओं को संबोधित करते हुए सीएम योगी और पीएम मोदी पर जमकर हमला किया। राजभर ने योगी सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि पहले की सरकारों में गरीबों से थानों पर 500 रूपए लिया जाता था लेकिन अब की सरकार में 5 हजार रूपए लिए जाते है। यही नहीं ओम प्रकाश राजभर ने अपने ही सरकार के खिलाफ आंदोलन करने तक की धमकी दे डाली।

ओम प्रकाश राजभर ने कहा कि जिस तरह से प्रदेश में भ्रष्टाचार हो रहे है अगर वह नहीं रुका तो वह यूपी के 75 जिलों में व्यापक आंदोलन करेंगे। ओम प्रकाश राजभर ने केंद्र की मोदी सरकार के मंत्रिमंडल पर हमला करते हुए कहा कि अगर मै लुटेरा होता तो मोदी जी के मंत्रिमंडल की तरह सुर में सुर मिलाता, अगर जरुरत पड़ी तो सुर में सुर मिलाने की जगह मै उनके पैरों में किल ठोककर बाहर का रास्ता दिखाने का काम करूँगा।

भारतीय समाज पार्टी ने रविवार को वाराणसी के छोटा कटिंग मेमोरियल ग्राउंड में विशाल महारैली का आयोजन कर अपनी शक्‍ति का प्रदर्शन किया। पार्टी के 15वें स्‍थापना दिवस के मौके पर आयोजित अति दलित, अति पिछड़ा मंडलस्‍तरीय महारैली में प्रदेश सरकार में एनडीए के घटक दल के मंत्री और भासपा के राष्ट्रीय अध्‍यक्ष ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि यहां वह लोग आये हुए है जिन्होंने 2017 में मेरे कहने पर अपना एक एक वोट देकर प्रदेश में भाजपा की सरकार बनाई।

मंत्री ने प्रदेश सरकार के ही कुछ अधिकारियों को कासगंज की घटना का जिम्मेदार बताया। उन्होंने कहा कि कुछ ऐसे अधिकारी है जो आज भी अपनी आदत से मजबूर है। ऐसे अधिकारी बिगड़ चुके है जिनकी आदत नही सुधर रही है जिनकी वजह से ऐसी घटना हुई। उन्होंने पिछली सरकारों पर निशाना साधते हुए कहा कि पिछले 15 वर्षो की सरकारों में उन लोगो के पाले गए अपराधी और अधिकारियों को जो छुट दी गई थी कुछ ऐसे अधिकारी है जो आज भी बात को नहीं मान रहे है उनके खिलाफ कम्प्लेन हो रही है जाँच हो रही है और कार्यवाई भी जारी है।

ओमप्रकाश राजभर ने कहा कि अपराध पर लगाम लगाने के लिए मुख्यमंत्री यूपीकोका कानून लाना चाहते थे लेकिन विपक्षी पार्टियों कांग्रेस, सपा और बसपा ने साथ नहीं दिया। वह लोग नहीं चाहते है की अपराध घटे लोग अमन चैन से रहे।

जीएसटी और ई-वे बिल से भी ओमप्रकाश राजभर ने बयान देते हुए कहा कि कई राज्यों में चुनाव हुए है हर जगह भाजपा जीती है कैसे मान लिया जाये की व्यापारी इससे नाराज हैं और इसका विरोध हो रहा है। वही एनडीए संग आगे चुनाव लड़ने के सवाल पर कहा कि 2019 में एनडीए दोबारा सत्ता में आयेगी और हम मिलकर सरकार बनायेंगे।

हालांकि उन्‍होंने यह भी बोला कि अगर टिकटों का बंटवारा नगर निगम चुनाव की तर्ज पर हुआ तो हमारे विकल्‍प खुले हुए हैं। उन्होंने पार्टी की इस रैली को सफल बताते हुए कहा की हम लोग सात कार्यक्रम इस तरह का कर रहे हैं।

shabab@janmanchnews.com

Share this news...

Hindi News से जुड़े अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फॉलो करें।